Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

India की दरियादिली : रिहा होंगे 11 Pakistani कैदी

India की दरियादिली : रिहा होंगे 11 Pakistani कैदी

- Advertisement -

नई दिल्ली। कुलभूषण जाधव मामले में तनातनी के बाद पाकिस्तान से तल्ख रिश्तों के बीच भारत ने एक सकारात्मक कदम उठाया है। भारत ने 11 पाकिस्तानी कैदियों को रिहा करने का फैसला लिया है। ये कैदी सोमवार को रिहा कर दिए जाएंगे। हालांकि, पाकिस्तान ने इस कदम का स्वागत करने के बजाय इसे भारत की जिम्मेदारी करार दिया है। खबर के मुताबिक पाकिस्तान का कहना है कि इन सभी कैदियों ने अपनी सजा पूरी कर ली है इसलिए भारत उन्हें रिहा कर रहा है। रिहाई के मामले में भारतीय अधिकारियों का कहना है कि मानवीयता के आधार पर इन कैदियों को रिहा किया जा रहा है।

सरकार को आशा है कि इसके बाद पाकिस्‍तान भी ऐसे भारतीय कैदियों को रिहा कर देगा जिनकी वहां सजा पूरी हो चुकी है। पाकिस्तान की जेलों में 132 भारतीय कैदी बंद हैं, जिनमें से 57 कैदी अपनी सजा पूरी कर चुके हैं, बावजूद इसके उन्हें रिहा नहीं किया गया है। पाकिस्‍तान का कहना है कि उनकी रिहाई से पहले भारत को उनकी राष्‍ट्रीयता के संबंध में पुष्टि करनी होगी। 


पहले भी दो पाकिस्तानी बच्चों को रिहा कर चुका भारत

यह रिहाई इस मामले में भी अहम है क्‍योंकि अस्‍ताना में एससीओ सम्‍मेलन से इतर पीएम नरेंद्र मोदी और पाक पीएम नवाज शरीफ की अनौपचारिक भेंट हुई थी। पीएम मोदी ने शरीफ से उनकी सेहत का हाल-चाल पूछा और उनकी मां एवं परिजनों का कुशलक्षेम पूछा। इससे पहले भारत दो पाकिस्तानी बच्चों को रिहा कर चुका है। ये दोनों बच्चे 2016 में गलती से भारत की सीमा में घुस आए थे, जिसके बाद उन्हें पंजाब पुलिस के सुपुर्द कर दिया गया था।

ये बच्चे अपने अंकल शहजाद के साथ सीमा पार कर भारत में घुस आए थे। शहजाद अभी भी हिरासत में है। गौर हो कि भारतीय नागरिक कुलभूषण जाधव पर जासूसी का आरोप लगाते हुए पाकिस्‍तानी मिलिट्री कोर्ट ने उनको फांसी की सजा सुनाई है। भारत ने इस मुद्दे पर अंतरराष्‍ट्रीय न्‍यायालय (ICJ) का दरवाजा खटखटाया है और मामला वहां लंबित है।

Pakistan ने फिर किया Ceasefire Violation, मिला मुंहतोड़ जवाब

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है