Covid-19 Update

1,99,430
मामले (हिमाचल)
1,92,256
मरीज ठीक हुए
3,398
मौत
29,685,946
मामले (भारत)
177,559,790
मामले (दुनिया)
×

अब बॉर्डर पर दुश्मनों के दांत खट्टे करेंगे भारतीय सेना के अत्याधुनिक रोबोट्स

अब बॉर्डर पर दुश्मनों के दांत खट्टे करेंगे भारतीय सेना के अत्याधुनिक रोबोट्स

- Advertisement -

नई दिल्ली। भारतीय सेना (Indian Army) जल्द ही विद्रोहियों और आतंकवादियों (Terrorists) से निपटने के लिए अत्याधुनिक रोबोट्स (High-tech Robots) का उपोग करने जा रही है। एक रिपोर्ट के अनुसार सेना जल्द ही इन रोबोट्स को कश्मीर (Kashmir) और सीमावर्ती इलाकों में तैनात कर सकती है। इन रोबोट्स के अंदर अर्टिफिशियल इंटेलिजेंस (Artficial Intelligence) की क्षमता होगी जो इनको बखूबी काम करने में मदद करेगी। रिपोर्ट की माने तो इन रोबोट्स को बहुत विशाल संख्या में तैनात किया जाएगा और यह आंकड़ा 500 तक का भी हो सकता है। रिपोर्ट में बताया गया है कि रक्षा मंत्रालय (Defence Ministry) काउंटर टेरर आपरेशंस और ऐसे दूसरे आपरेशंस के लिए इन रोबोट्स का इस्तेमाल काफी समय से करना चाह रही है।

 


यह भी पढ़ें: अध्यक्ष पद छोड़ने पर अड़े राहुल ने पार्टी को दिया 30 दिन का समय

कुछ समय ठन्डे बस्ते में रहने के बाद अधिकारी इसको लेकर वापस से गंभीर हो गए हैं और जल्द से जल्द इन रोबोट्स की टेस्टिंग करवाना चाहते हैं। दरअसल घाटी में सैनिकों के घायल या शहीद होने की बढ़ती घटनाओं को देखते हुए ये कदम उठाया जा सकता है। रिपोर्ट ये भी कहती है कि सेना ने घाटी के लिए 544 रोबोट्स का प्रपोजल (Proposal) दिया था, जिसे रक्षा मंत्रालय ने हरी झंडी दिखा दी है। करीब दो साल से डीआरडीओ (DRDO) से जुड़ी लैब सीएआईआर (सेंटर फॉर आर्टिफिशियल इंटेलिजेंस एंड रोबोटिक्स) इस पर काम कर रही है।  ये सेना के लिए कई तरह के रोबोट्स तैयार कर रही है. इन्हें मल्टी एजेंट रोबोटिक्स फ्रेमवर्क (Multi Agent Robotics Framework) कहा जा रहा है।

 


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है