Covid-19 Update

58,543
मामले (हिमाचल)
57,287
मरीज ठीक हुए
982
मौत
11,077,957
मामले (भारत)
113,760,666
मामले (दुनिया)

अब सिख लड़की हुई America में नस्लीय हिंसा का शिकार

अब सिख लड़की हुई  America में नस्लीय हिंसा का शिकार

- Advertisement -

racial violence- न्‍यूयार्क। अमेरिका में लंबे समय से भारतीयों के साथ नस्लीय भेदभाव होता आया है और इस बार अमेरिका में एक भारतीय सिख लड़की के साथ यह घटना हुई है। सबवे ट्रेन में एक सिख अमेरिकी लड़की को भूल से मध्‍यपूर्वी देश का समझ अमेरिकी युवक ने चीखते हुए लेबनान वापस जाने को कहा और साथ यह भी कहा कि यह देश तुम्‍हारा नहीं है। वहीं दक्षिण-एशिया मूल के लोगों के खिलाफ हेट क्राइम का यह नया मामला सामने आया है। न्‍यूयार्क टाइम्‍स के एक रिपोर्ट के अनुसारए मैनहट्टन में अपने दोस्‍त के जन्‍मदिन पार्टी में शामिल होने के लिए राजप्रीत हायर ने सबवे ट्रेन लिया और तभी अमेरिकी युवक उस पर चिल्‍लाने लगा।  राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप के सत्‍ता में आने के बाद से देश में हेट क्राइम की कई घटनाएं सामने आयी हैं।

racial violence: हायर की मदद के लिए दो महिलाएं आईं आगे

हायर का जन्‍म सिख परिवार में लेबनान से 30 मील दूर अमेरिकी प्रांत इंडियाना में हुआ है न कि मध्‍यपूर्व देश में। हायर ने कहा, वह फोन देख रही थी और तभी वह अमेरिकी युवक उस पर चीखने लगा। उस अमेरिकी युवक के ट्रेन से उतर जाने के बाद उसने एक युवती को देखा जो हायर को आंसू भरी निगाहों से देख रही थी। रिपोर्ट के अनुसार, इस घटना के बाद हायर की मदद के लिए दो महिलाएं आगे आईं। एक ने उसके कंधे को थपथपाकर पूछा कि वह ठीक तो है। दूसरी ने सबवे स्‍टेशन पर पुलिस ऑफिसर के पास घटना दर्ज करा दी।

पहले भी हो चुकी हैं एेसी घटनाएं

कंसास में 32 वर्षीय भारतीय इंजीनियर श्रीनिवास कुचिभोतला व उसके दोस्‍त आलोक मादासानी के साथ गोलीबारी की घटना के बाद भारतीय समुदाय स्‍तब्‍ध और भयभीत है।  51 वर्षीय अमेरिकी नेवी एडम पुरिंटन ने देश से बाहर चले जाने को कहते हुए उन पर गोली चलाई थी। पुरिंटन ने दोनों भारतीय युवकों को मध्‍यपूर्व का समझ लिया था। इस  माह के शुरुआत में 39 वर्षीय सिख युवक की वाशिंगटन में हत्‍या कर दी गई। सिएटल टाइम्‍स के अनुसारए हमलावर ने गोली चलाने से पहले कहा था। गो बैक टू योर कंट्री। वहीं भारतीय मूल की महिला एकता देसाई ने एक वीडियो ऑनलाइन पोस्‍ट किया था, जिसमें सबवे ट्रेन में सफर के दौरान एक अफ्रीकी-अमेरिकी युवक ने नस्‍लीय कमेंट करते हुए उसे अनुचित नामों से बुलाया था।

गिलगित-बाल्टिस्तान भारत का वैध एवं संवैधानिक हिस्सा: ब्रिटिश संसद

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है