Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

85 फीसदी पाकिस्तान पर भारत की नजर, आसमान से घर के भीतर तक गढ़ी हैं आंखें

85 फीसदी पाकिस्तान पर भारत की नजर, आसमान से घर के भीतर तक गढ़ी हैं आंखें

- Advertisement -

नई दिल्ली। अंतरिक्ष में मंडरा रहे भारत के उपग्रह (Indian sattelites) 85 फीसदी पाकिस्तान पर नजर रखे हुए हैं। इन उपग्रहों के कैमरे इस कदर आधुनिक हैं कि आसमान से लोगों के घरों के भीतर तक की एचडी तस्वीरें ली जा रही हैं। सिर्फ पाकिस्तान ही नहीं, बल्कि 14 और देशों के चप्पे-चप्पे पर भारतीय उपग्रहों की नजर है।

यह भी पढ़ें: पाकिस्तान को मोदी की दो-टूक: सीमा पर फौज खड़ी है, अब देश नहीं रुकेगा

भारत अपनी सेटेलाइटों के जरिए पाकिस्तान (Pakistan) के 8.8 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल में से लगभग 7.7 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल पर नजर रखने में सक्षम है। इन एरिया में सैटेलाइट्स के जरिए भारतीय सेना को 0.65 मीटर की एचडी (High Definition) मतलब उच्च गुणवत्ता की तस्वीरें प्राप्त हो सकती हैं। करीब एक माह पहले, 17 जनवरी 2019 को अंतरिक्ष विभाग के मंत्री जितेंद्र सिंह (Jitendra Singh) ने एक बयान में कहा था कि भारत, पाकिस्तान के घरों में भी झांक सकता है। उनका ये बयान भारतीय सैटेलाइटों की क्षमता को बयां करने में पर्याप्त है।


यह भी पढ़ें: पाकिस्तान ने पुंछ इलाके में सीमा पार से शुरू की फायरिंग, दागे मोर्टार से गोले

भारत की ये अंतरिक्ष क्षमताएं उसे पाकिस्तान की तरह ही अन्य पड़ोसी देशों पर भी बारीक निगाह रखने में मदद करती है। भारत 14 देशों के लगभग 55 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्रफल पर नजर रखने में सक्षम है। इन सैटेलाइट के जरिए न केवल पाकिस्तानी सेनाओं (Pakistan Army) की गतिविधि पर नजर रखी जा सकती है, बल्कि भारतीय सेनाओं या सशस्त्र बलों के रास्ते में आने वाली हर रुकावट का भी पहले से ही अनुमान लगाया जा सकता है। ऐसे में बालाकोट (Balakot) जैसी एयर स्ट्राइक करना भारत के लिए और आसान हो जाता है।

 

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है