Covid-19 Update

2,86,061
मामले (हिमाचल)
2,81,413
मरीज ठीक हुए
4122
मौत
43,436,433
मामले (भारत)
550,643,002
मामले (दुनिया)

भारतीय महिला क्रिकेट की दिग्गज मिताली राज ने संन्यास की घोषणा की

एकदिवसीय क्रिकेट में 232 मैचों में 50.68 की औसत से 7,805 रन बनाए

भारतीय महिला क्रिकेट की दिग्गज मिताली राज ने संन्यास की घोषणा की

- Advertisement -

मुंबई। भारत की सबसे महान महिला बल्लेबाज मिताली राज ने बुधवार को अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट से संन्यास लेने की घोषणा की। 16 साल की उम्र में डेब्यू पर 114 रनों की पारी खेलने वाली मिताली जल्द ही भारतीय क्रिकेट टीम की मुख्य बल्लेबाज बन गईं। वह अपने शानदार करियर के अधिकांश भाग में टीम का नेतृत्व करती हुईं नजर आईं, जहां उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन दिया। 39 वर्षीय मिताली ने सोशल मीडिया पर अपनी सेवानिवृत्ति की घोषणा की, ट्विटर पर एक पत्र पोस्ट किया, जिसमें उनकी दो दशक से अधिक लंबी यात्रा का पता लगाया गया। मिताली ने लिखा, उन्होंने एकदिवसीय क्रिकेट में 232 मैचों में 50.68 की औसत से 7,805 रन बनाए। उन्होंने आगे लिखा कि, मेरी क्रिकेट यात्रा काफी उतार चढ़ाव वाली रही है क्योंकि देश का प्रतिनिधित्व करना मेरे लिए सम्मान की बात रही है। मिताली ने अपने करियर में सात एकदिवसीय शतक जड़े और 64 अर्धशतक लगाए।

यह भी पढ़ें:जनवरी 2023 में आयोजित होगी यूएई इंटरनेशनल टी- 20 लीग

इंग्लैंड की महान क्रिकेटर शार्लोट एडवर्डस मिताली के बाद दूसरे स्थान पर रहीं, उनके लगभग दो दशक लंबे करियर के साथ उन्होंने 191 मैचों में 38.16 की औसत से 5,992 रन बनाए। मिताली ने 89 टी20 मैच में 2,364 रन बनाए, साथ ही 12 टेस्ट में 699 रन बनाए, जिसमें एक शतक और चार अर्धशतक शामिल हैं। वह आईसीसी महिला ओडीआई प्लेयर रैंकिंग में नंबर 7 में रहीं। उन्होंने कहा, “मुझे लगता है कि अब मुझे अपने क्रिकेट करियर से संन्यास ले लेना चाहिए क्योंकि टीम की बागडोर अब युवा खिलाड़ियों के हाथों में देनी चाहिए और भारतीय क्रिकेट का भविष्य उज्‍जवल है।” मिताली ने कहा, “मैं बीसीसीआई और जय शाह को मुझे अपना समर्थन देने के लिए धन्यवाद देना चाहती हूं, जहां मुझे महिला टीम का नेतृत्व करने के लिए कमान सौंपी गई।” यह 2017 के एकदिवसीय विश्व कप के दौरान था कि मिताली ने एडवर्डस को पीछे छोड़ते हुए एकदिवसीय मैचों में सबसे अधिक रन (6000) बनाए और ऐसा करने वाली वें पहली महिला क्रिकेटर बन गईं।

मिताली ने संकेत दिया कि वह खिलाड़ियों को भविष्य में कोचिंग देने के लिए तैयार रहेंगी।उन्होंने आगे बताया, “इतने सालों तक टीम का नेतृत्व करना एक सम्मान की बात थी। यह यात्रा भले ही समाप्त हो गई हो, लेकिन एक और संकेत है कि मैं इसमें शामिल रहना पसंद करूंगा। वह खेल जिसे मैं प्यार करता हूं और भारत और दुनिया भर में महिला क्रिकेट के विकास में योगदान देता हूं।” उन्होंने आगे कहा, “मेरे सभी प्रशंसकों को मेरा समर्थन देने के लिए धन्यवाद।”

–आईएएनएस

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



---------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------------
सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है