Covid-19 Update

2,00,410
मामले (हिमाचल)
1,94,249
मरीज ठीक हुए
3,426
मौत
29,933,497
मामले (भारत)
179,127,503
मामले (दुनिया)
×

बूंद-बूंद को तरसेगा पाक, गडकरी बोले- पाकिस्तान नहीं जाने देंगे भारतीय नदियों का पानी

बूंद-बूंद को तरसेगा पाक, गडकरी बोले- पाकिस्तान नहीं जाने देंगे भारतीय नदियों का पानी

- Advertisement -

नई दिल्ली। जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir) के पुलवामा में हुए आतंकी हमले के बाद भारत सरकार (Indian government) ने पाकिस्तान (Pakistan) के खिलाफ सख्त रुख अपनाते हुए सिंधु जल समझौते (Indus Water Treaty) के बावजूद अब तक पाक को दिए जा रहे ब्यास, रावी और सतलुज नदी के पानी (Water) को रोकने का फैसला किया है। सरकार की तरफ से केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने कहा है कि इन तीनों नदियों पर बने प्रॉजेक्ट्स की मदद से पाक को दिए जा रहे पानी को अब पंजाब (Punjab) और जम्मू-कश्मीर की नदियों (rivers) में छोड़ा जाएगा। ऐसा होने से पाकिस्तान बूंद-बूंद पानी के लिए तरस जाएगा।

यह भी पढ़ें: ठंड में पाकिस्तान पर गरजे जावड़ेकर, करारा जवाब देने की कर गए बात

गुरुवार को उत्तरप्रदेश के बागपत में एक जनसभा को संबोधित कराते हुए गडकरी ने कहा कि अब रावी, व्यास और सतुलज नदियों का पानी रोककर यमुना में लाया जाएगा। गडकरी के मुताबिक, दिल्ली-आगरा से इटावा तक जलमार्ग की डीपीआर भी तैयार हो चुकी है। बागपत में रिवर पोर्ट बनाया जाएगा। पानी की कमी दूर होने से किसान अपनी फसल चक्र बदलें और चीनी मिलें गन्ने के रस से एथनॉल बनाएं, तो रोजगार और आमदनी बढ़ेगी। बता दें कि भारत और पाकिस्‍तान के बीच सिंधु जल संधि पर हस्‍ताक्षर 19 सितंबर 1960 को हुआ था। भारत की ओर से प्रथम प्रधानमंत्री जवाहरलाल नेहरू और पाकिस्‍तान के राष्‍ट्रपति अयूब खान ने इस समझौते पर हस्‍ताक्षर किए थे। दोनों देशों के बीच यह संधि विश्‍व बैंक के हस्‍तक्षेप से हुई थीं। इससे पहले करीब एक दशक तक दोनों देशों के बीच इस मसले पर बातचीत हुई थी।


- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है