×

यह है भारत का ‘आखिरी गांव’, इसकी खूबसूरत वादियों में बिता सकते हैं गर्मियों की छुट्टियां

यह है भारत का ‘आखिरी गांव’, इसकी खूबसूरत वादियों में बिता सकते हैं गर्मियों की छुट्टियां

- Advertisement -

गर्मी का मौसम है, छुट्टियां भी चल रही हैं ऐसे में आपने कहीं घूमने का प्लान तो बनाया ही होगा। किसी हिल स्टेशन पर जाने के बारे में तो सोच ही रहे होंगे तो आज हम आपको भारत के एक ऐसे गांव के बारे में बताने जा रहे हैं, जिसे ‘आखिरी गांव’ के नाम से जाना जाता है। यहां पर बर्फ से लदी पर्वत की चोटियां और हरे-भरे घास के मैदान भी हैं। अगर आप इन गर्मियों में कई घूमने का प्लान बना रहे हैं तो इससे बेहतर जगह कोई और नहीं हो सकती है। यह गांव रोमांच के साथ ठंड और प्रकृति का मजा भी देता है। तो आज हम आपको बताएंगे कि आप इस गांव की सैर कैसे कर सकते हैं।


यह गांव भारत-तिब्बत की सीमा पर बसा छितकुल गांव हैं, जहां आपको प्रकृति के खूबसूरत नजारे देखने को मिलते हैं। नदियों की अविरल धारा में सूरज का प्रतिबिंब चमकते मोतियों जैसा लगता है। यहां पर आने के लिए आप हिमाचल के रास्ते किन्नोर जिला में स्थित बास्पा घाटी की ओर से यहां का सफर कर सकते हैं। बास्पा नदी के दाहिने तट पर स्थित इस गांव में स्थानीय देवी माथी के तीन मंदिर बने हुए हैं। इस गांव को किन्नौर जिले का क्राउन भी कहा जाता है।

हिमाचल प्रदेश की राजधानी शिमला से करीब 250 किलोमीटर की दूरी पर बसा यह गांव प्रकृति की अद्भुत सुंदरता को खुद में समेटे है। इस गांव में आप नारकंडा से रामपुर, सराहन, वांगटु, करच्छमा, सांगला से होते हुए आप खतरनाक पहाड़ी रास्तों से होते हुए यहां पहुंचेंगे। यहां ड्राइविंग करना किसा चैलेंज से कम नहीं। इसके रास्ते पर जाते हुए आपको पहाड़ों से निकलती हुई छोटी-छोटी जलधाराएं भी दिखाई देंगी जो बास्पा नदी में मिल जाती हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है