×

Una के कुछ गांवों की तस्वीर बदलेगी INDUS University

Una के कुछ गांवों की तस्वीर बदलेगी INDUS University

- Advertisement -

ऊना। यहां स्थित  INDUS University ने परिसर के नजदीक के कुछ गांवों को गोद लेने का फैसला किया है। बीटन, सिंगा, बाथू सहित कुछ गांवों में इंडस की ओर से स्वच्छता, पानी निकासी, सिविल वर्क, शिक्षा की जागरूकता को लेकर कार्यक्रम आयोजित होंगे, ताकि गांवों की दशा व तस्वीर बदलने में मदद की जा सके।


यह जानकारी INDUS University के कुलपति ब्रिगेडियर डॉ. प्रदीप सिंह ने दी। उन्होंने कहा कि INDUS University की प्राथमिकताओं में स्कील डिवलपमेंट को शामिल किया जाएगा, ताकि आने वाले समय में अधिकतर युवा कुशल बनकर अपने पैरों पर खड़ा हो सके। दूसरी प्राथमिकता शिक्षा से रोजगार तो मिले ही, लेकिन रोजगार के अवसर पैदा करने वाले शिक्षित युवा खड़े हो रहेगी।

तीसरी प्राथमिकता अध्यापन से रिसर्च की ओर बढ़ा जाए, इसको लेकर रहेगी। डॉ. प्रदीप सिंह ने कहा कि INDUS University में नए कोर्स समय पर लांच किए जाएंगे। INDUS की कार्यपद्धति का लाभ ऊना व हिमाचल को मिले, इसके लिए विशेष प्रयास अलग से किए जाएंगे। उन्होंने कहा कि शिक्षा को लेकर जिला ऊना में बड़े स्तर पर जागरूकता अभियान चलाने की आवश्यकता है, ताकि युवा वर्ग शिक्षा के प्रति आकर्षिंत हो सके।

उन्होंने कहा कि एक्सपोजर की कमी के कारण ग्रामीण क्षेत्र के युवा कई बार प्रतियोगिता से पीछे रह जाते हैं, लेकिन हम आने वाले समय में शिक्षा व छात्र-छात्राओं के बीच की दूरी को कम करेंगे। उन्होंने कहा कि INDUS University ने पूरी तरह से कमिटमेंट के साथ शिक्षा को आगे बढ़ाने के लिए काम किया है और बच्चों की प्रतिभा को निखारने के लिए विभिन्न प्रकार के कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। उन्होंने कहा कि सभी के सहयोग से इंडस यूनिवर्सिटी को आगे बढ़ाने का कार्य किया जाएगा।इस अवसर पर डॉ सतीश मेनन, बुद्धिराजा, निशांत अग्रिहोत्री व गुरपाल सहित उपस्थित रहे।

डॉ. प्रदीप सिंह ने कहा कि छात्र-छात्राओं में वार्तालाप व आत्मविश्वास की कमी दिखती है। भाषा पर पूरी पकड़ चाहिए, तभी सफलता मिल सकती है। इसको लेकर इंडस छात्र-छात्राओं के लिए कंप्यूटर शिक्षा, स्पोकन इंग्लिश, स्टै्टस मनैजमेंट सहित अन्य विषयों पर प्रशिक्षण दिया जाएगा। इसके लिए यूनिवर्सिटी से बाहर स्कूलों या अन्य संस्थानों में पढ़ने वाले बच्चों को मौका दिया जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है