Covid-19 Update

58,800
मामले (हिमाचल)
57,367
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,137,922
मामले (भारत)
115,172,098
मामले (दुनिया)

वाह रे प्रशासन का तालमेल प्रतियोगिता शुरू होने से ऐन पहले बदला स्थान

वाह रे प्रशासन का तालमेल प्रतियोगिता शुरू होने से ऐन पहले बदला स्थान

- Advertisement -

ईवीएम की सुरक्षा का हवाला देते हुए ऊना कॉलेज से बदला स्थान

सुनैना जसवाल/ऊना। इसे प्रशासन के दो विभागों के तालमेल में कमी कहें या कुछ और कि ऊना कॉलेज में होने वाली इंटर कॉलेज महिला बास्केटबॉल प्रतियोगिता के लिए आयोजन शुरू होने से ऐन पहले स्थान बदलना पड़ा। पीजी कॉलेज ऊना में होने वाली हिमाचल प्रदेश विवि की इंटर कॉलेज महिला बास्केटबॉल प्रतियोगिता के आयोजन को लेकर मचा बवाल बेशक सुलझ गया हो पर इस विवाद के पीछे जिला और कॉलेज प्रशासन में आपसी तालमेल की कमी सामने आई है। मामले का हल यह निकाला कि अब ये प्रतियोगिता अब ऊना कॉलेज के बजाय सलोह स्कूल में होगी। पुलिस ने कॉलेज में बनाए गए ईवीएम के स्ट्रांग रूम की सुरक्षा को लेकर प्रतियोगिता का स्थान बदलने के निर्देश दिए। अब यह प्रतियोगिता ऊना मुख्यालय से करीब 10 किलोमीटर दूर सलोह स्कूल में करवाई जाएगी। जाहिर है कि ऊना कॉलेज को विस चुनाव के बाद ईवीएम के लिए स्ट्रांग रूम बनाया गया है, ऐसे में प्रशासन का तर्क है कि अगर प्रतियोगिताएं यहां पर होती है तो उनकी सुरक्षा को खतरा हो सकता है। सोमवार को जब कॉलेज के मैदान में होने वाली बास्केटबॉल प्रतियोगिता में राज्य की 8 टीमों के करीब 80 खिलाड़ी हिस्सा लेने के लिए पहुंच तो गए थे, लेकिन ऐन मौके पर जिला प्रशासन की ओर से ईवीएम की सुरक्षा का हवाला देते हुए कॉलेज प्रशासन को खेलों के स्थान को बदलने का फरमान जारी कर दिया। इतना ही नहीं एएसपी दिनेश कुमार के निर्देश पर पुलिस ने मैदान में लगे टैंट तक उखाड़ दिए।

3 हजार छात्रों से परेशानी नहीं, 80 खिलाड़ियों से हैं

पुलिस द्वारा की गई इस कार्रवाई से कॉलेज प्रशासन और बाहरी जिलों से आए खिलाड़ियों को काफी परेशानी झेलनी पड़ी। पुलिस चाहे इसे प्रतियोगिता का आयोजन न करवाने के पीछे कॉलेज में रखी ईवीएम मशीन की सुरक्षा में छेद बता रही है, लेकिन पुलिस की इस कार्रवाई से हर कोई परेशान हुआ। खिलाड़ियों की मानें तो उनके रहने और खाने की व्यवस्था तो ऊना में की गई है लेकिन अब खेले सलोह में होंगी, जिससे उन्हें खासी दिक्कत पेश आएगी। मामले को गंभीर होता देखते हुए एडीएम सुखदेव सिंह व एसडीएम पृथीपाल मौके पर पहुंचे गए और पूरी जानकारी हासिल की। अंत में सलोह स्कूल में प्रतियोगिता करवाने का फैसला लिया गया। वहीं प्रदेशभर से लड़कियों की टीमें लेकर पहुंचे स्टाफ ने भी कॉलेज और जिला प्रशासन में तालमेल की कमी पर अपना रोष जाहिर किया। अध्यापकों की माने तो रोजाना कॉलेज में 3 हजार के करीब छात्र आ रहे है, उससे कोई परेशानी नहीं हो रही तो प्रदेश से आए 80 खिलाड़ियों से क्या परेशानी होनी थी।

जब निमंत्रण दिया तब आपत्ति नहीं जताई

उधर, कॉलेज के प्रधानाचार्य त्रिलोक चन्द का कहना है इस प्रतियोगिता को पुलिस ने ऊना कॉलेज में होने से रोक दिया है। अब ये प्रतियोगिता सलोह स्कूल में होगी। उन्होंने प्रतियोगिता को लेकर जिला प्रशासन को भी निमंत्रण दिया था, लेकिन तब किसी ने भी इस पर आपत्ति नहीं जताई लेकिन अब शुरू होने से ठीक पहले प्रतियोगिता को रुकवा दिया गया। एडीएम ऊना सुखदेव सिंह का कहना है कि प्रशासन को इस प्रतियोगिता के बारे कोई जानकारी नहीं थी लेकिन जैसे ही एएसपी ऊना को निरीक्षण के दौरान इस बारे पता चला उन्होंने सुरक्षा की दृष्टि से स्थान बदलने के निर्देश दिए थे। एडीएम ने कहा कि कॉलेज प्रशासन को खेलों का स्थान बदलने के लिए सभी सुविधाएं मुहैया करवाई जाएंगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है