Covid-19 Update

2,06,027
मामले (हिमाचल)
2,01,270
मरीज ठीक हुए
3,505
मौत
31,655,824
मामले (भारत)
198,557,259
मामले (दुनिया)
×

पाक में कैद कुलभूषण जाधव पर 17 जुलाई को फैसला सुनाएगी अंतरराष्‍ट्रीय अदालत

पाक में कैद कुलभूषण जाधव पर 17 जुलाई को फैसला सुनाएगी अंतरराष्‍ट्रीय अदालत

- Advertisement -

नई दिल्‍ली। जासूसी के आरोप में पाकिस्तान की जेल में कैद भारतीय वायुसेना के अधिकारी कुलभूषण जाधव के भाग्‍य का फैसला इसी महीने होने वाला है। इस मामले की जांच कर रही अंतरराष्ट्रीय अदालत  की ओर से जारी किए गए पत्र के अनुसार 17 जुलाई को मामले पर फैसला (Judgment) आएगा। इससे पहले विदेश मंत्रालय के प्रवक्ता रवीश कुमार ने कहा था कि इस मामले पर फैसला अगले कुछ हफ्तों में आ जाएगा।  उन्‍होंने कहा था कि इस मामले में जिरह हो चुकी है और अंतरराष्ट्रीय अदालत इस पर फैसला सुनाएगी। ज्ञात रहे कि 48 वर्षीय जाधव को पाकिस्तान की सैन्य अदालत ने अप्रैल 2017 में फांसी की सजा सुनाई थी।

यह भी पढ़ें: बिग ब्रेकिंगः तीन दर्जन से भी अधिक एचएएस के तबादले, कौन कहां भेजा-जानिए

पाकिस्तान(Pakistan) ने उन पर भारत का जासूस होने के आरोप लगाए हैं। कुलभूषण जाधव (Kulbhushan Jadhav) भारतीय नागरिक हैं, पाक की ख़ुफ़िया एजेंसी आईएसआई ने जाधव का अपहरण ईरान से किया था।  आईसीजे (International court of Justice) में कुलभूषण जाधव मामले में 19 फरवरी को पाकिस्तान के एटॉर्नी जनरल अनवर मंसूर खान ने पाकिस्तान का पक्ष रखा था। खान ने आईसीजे में दलील दी थी कि जाधव भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ के अधिकारी हैं। पाक ने दावा किया था कि रॉ ने कुलभूषण को बलूचिस्तान में हमला करवाने के लिए भेजा था।


यह भी पढ़ें: LOC के पास छंब सेक्टर में हुआ धमाका, 5 पाकिस्तानी सैनिक मारे गए

खान ने आरोप लगाया था कि साल 2014 में पेशावर के आर्मी स्कूल में हुए हमले में भारत का हाथ था। इससे पहले 18 फरवरी को सुनावाई के दौरान अपना पक्ष रखते हुए भारत (India) ने कहा था कि पाकिस्तान इस मामले में उचित प्रक्रिया के न्यूनतम मानकों को भी पूरा करने में असफल रहा है। भारत ने यह भी अपील की थी कि इंटरनेशनल कोर्ट पाकिस्तान के फैसले को गैरकानूनी घोषित करे।

ये हैं जाधव मामले के कुछ तथ्‍य:

  • 25th मार्च 2016: भारत को जाधव की हिरासत की जानकारी मिली
  • 11 अप्रैल 2017: पाकिस्तान की मिलिट्री कोर्ट ने जाधव को मौत की सज़ा सुनाई
  • 8 मई 2017: भारत ने आईसीजे का दरवाज़ा खटखटाया
  • 15 मई 2017: मामले में सुनवाई हुई
  • 18 मई 2017: आईसीजे ने फांसी पर रोक लगाई
  • 25 दिसंबर 2017: जाधव की मां और पत्नी ने पाक जाकर जाधव से मुलाकात की
  • 28 दिसंबर 2017: विदेश मंत्री सुषमा स्वराज ने इस मुलाकात की जानकारी संसद को दी
  • 19 फरवरी 2019 को हुई थी सुनवाई

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है