×

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस: फ्लोरेंस नाइटइंगेल की याद में

अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस: फ्लोरेंस नाइटइंगेल की याद में

- Advertisement -

International Nurse Day:  नोबल नर्सिंग सेवा की शुरूआत करने वाली ‘फ्लोरेंस नाइटइंगेल’ के जन्म दिवस पर हर साल दुनिया भर में 12 मई को यह दिवस मनाया जाता है। भारत सरकार के परिवार एवं कल्‍याण मंत्रालय ने राष्‍ट्रीय फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार की शुरुआत की। पुरस्‍कार प्रत्‍येक वर्ष 12 मई को दिये जाते हैं। स्‍वास्‍थ्‍य एवं परिवार कल्‍याण मंत्रालय ने 1973 से अभी तक कुल 237 नर्सों को इस से सम्‍मानित किया है। यह पुरस्‍कार प्रति वर्ष माननीय राष्ट्रपति द्वारा प्रदान किये जाते हैं। इंटरनेशनल काउंसिल ऑफ नर्सेज, नर्सों के लिए नए विषय की शैक्षिक और सार्वजनिक सूचना की जानकारी की सामग्री का निर्माण और वितरण करके इस दिन को याद करता है। फ्लोरेंस नाइटिंगल पुरस्‍कार में 50 हज़ार रुपए नकद, एक प्रशस्ति पत्र और मेडल दिया जाता है।


 International Nurse Day: इस दिवस का महत्व

नर्सिंग को विश्व के सबसे बड़े स्वास्थ्य पेशे के रूप में माना जाता है। नर्सिस को शारीरिक, मानसिक और सामाजिक स्तर जैसे सभी पहलुओं के माध्यम से रोगी की देखभाल करने के लिए अच्छी तरह से प्रशिक्षित, शिक्षित और अनुभवी होना चाहिए। जब पेशेवर चिकित्सक दूसरे रोगियों को देखने में व्यस्त होते है, तब रोगियों की चौबीस घंटे देखभाल करने के लिए नर्सिस की सुलभता और उपलब्धता होती हैं। नर्सिस से रोगियों के मनोबल को बढ़ाने वाली और उनकी बीमारी को नियंत्रित करने में मित्रवत, सहायक और स्नेहशील होने की उम्मीद की जाती है।

अलग-अलग तरह से मनाया जाता है दिवस

विश्व में अंतरराष्ट्रीय नर्स दिवस को अलग-अलग तरह से मनाया जाता है। इस कार्यक्रम को अमेरिका और कनाडा में पूरे सप्ताहभर मनाया जाता है। यह सप्ताह रोगियों की देखभाल में नर्सों की महत्वपूर्ण भूमिका तथा स्वास्थ्य सेवाओं में उनके योगदान के प्रति समर्पित होता है। पूरे सप्ताह विभिन्न प्रकार की गतिविधियों जैसे कि शैक्षिक संगोष्ठी, वाद-विवाद, अलग-अलग प्रतियोगिताओं और नर्सिंग से संबंधित मुद्दों पर विचार-विमर्श करने वाले कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है। इस दिन नर्सिस को उपहार और फूल वितरित तथा रात्रिभोज का आयोजन करके सम्मानित किया जाता है।

बुद्धं शरणं गच्छामि…धम्मं शरणं गच्छामि…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है