×

खुलासा: इस शख्स के पास थे सारे सबूत, एक्सिडेंट नहीं श्रीदेवी का ‘मर्डर’ हुआ था!

खुलासा: इस शख्स के पास थे सारे सबूत, एक्सिडेंट नहीं श्रीदेवी का ‘मर्डर’ हुआ था!

- Advertisement -

मुंबई। दिंवगत एक्ट्रेस श्रीदेवी (Sridevi) की मौत पर अब केरल के डीजीपी जेल और आईपीएस अधिकारी (IPS officer) ऋषिराज सिंह ने दावा किया है कि उनकी मौत बाथटब में डूबने से नहीं, बल्कि उनकी हत्या की गई थी। इस आईपीएस अधिकारी दावा है कि उनके एक दोस्त के पास इससे जुड़े कुछ सबूत थे जिनसे पता चलता है कि उनकी मौत महज एक दुर्घटना नहीं बल्कि सोची समझी साजिश थी। आईपीएस अधिकारी ऋषिराज सिंह के दोस्त डॉ. उमादथन एक फोरेंसिक सर्जन थे। पिछले बुधवार को उनकी 73 साल की उम्र में केरल के एक निजी अस्पताल में मौत हो गई है। वह केरल सरकार के सबसे भरोसेमंद केस सुलझाने वाले डॉक्टर थे। केरल सरकार ने वह अलग से मेडिको-लीगल एडवाइजर के पद पर थे। यहां तक की लीबिया की सरकार भी उनसे कई मामलों में सहायता मांगती थी।


यह भी पढ़ें- इस एक्टर ने 1 साल में कमाए 444 करोड़, बना सबसे ज्यादा कमाई करने वाला, जानें

डीजीपी ‌ऋषिराज सिंह ने अपने दोस्त डॉ. उमादथन की मौत पर एक लेख लिखा है। इसी लेख में उन्होंने इस बात का खुलासा किया है। इस लेख के मुताबिक़, ऋषिराजने लिखा ‘मेरे दोस्त ने बताया कि नशे में धुत कोई भी इंसान महज एक फ़ीट गहरे बाथटब में डूब नहीं सकता है। डीजीपी जेल ने लिखा, ‘यह संभव ही नहीं है कि कोई एक फुट गहरे बाथटब में डूब जाए। बिना किसी के दबाव डाले किसी शख्स का सिर और पैर एक फुट गहरे बाथटब में नहीं डूबेगा। उनके दोस्त का दावा था कि किसी ने उनके दोनों पैर पकड़े हुए थे, उसके बाद उनके सिर को पानी में डुबोया गया था।’ उसकी रिसर्च के दौरान कई सबूत उभरे थे, जिनसे श्रीदेवी की मौत के मर्डर होने की पूरी आशंका उभरती है।


हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें ….: 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है