×

भारत में नकली नोट पहुंचाने के लिए आईएसआई और डी-कंपनी ने खोजा नया रास्ता

भारत में नकली नोट पहुंचाने के लिए आईएसआई और डी-कंपनी ने खोजा नया रास्ता

- Advertisement -

नई दिल्ली। राष्ट्रीय जांच एजेंसी (एनआईए) की जांच से खुलासा हुआ है कि पाकिस्तान स्थित आईएसआई (ISI) और डी-कंपनी (D Company) की सांठगांठ से अब फिर भारत के पूर्वी सीमावर्ती क्षेत्रों में भारी पैमाने पर नकली नोटों (fake notes) की आमद होने लगी है। बताया गया कि लेकिन पिछले कुछ वक्त से एक बार फिर भारत में नकली नोटों को खपाने का काम तेज हो गया है। गौरतलब है कि पिछले काफी समय से पड़ोसी देश की ओर से भारत में नकली नोट भेजने का सिलसिला पूरी तरह से ठप हो गया था। एनआईए ने खुलासा किया है कि नकली नोट को भारत तक पहुंचाने के लिए आईएसआई और डी कंपनी ने नया रास्ता निकाला है।


यह भी पढ़ें: आईआईटी छात्रा का दावा, 2 रूपए का ‘स्मार्टफोन माइक्रोस्कोप’ पहचान सकता है नकली नोट

नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरोह के सरगना यूनुस अंसारी की नेपाल (Nepal) में गिरफ्तारी के बाद इस सांठगांठ से पर्दा हटा। भारतीय खुफिया एजेंसियों से मिली जानकारी के बाद पुलिस ने उसे गिरफ्तार किया। भारतीय अधिकारियों के अनुसार, ऐसा माना जाता है कि अंसारी का आईएसआई और दाउद इब्राहिम से करीबी संबंध है और वह नकली नोटों का कारोबार करने वाले गिरोह का सबसे बड़ा खिलाड़ी है। अंसारी के साथ-साथ तीन पाकिस्तानी नागरिकों को गिरफ्तार किया गया, जिनकी पहचान मुहम्मद अख्तर, नादिया अनवर और नसीरुद्दीन के रूप में की गई।

अंसारी की गिरफ्तारी से यह भी पता चला कि भारत में नकली नोट भरने का जरिया अब नेपाल नहीं रहा, बल्कि अब बांग्लादेश (Bangladesh) से लगती भारत की पूर्वी सीमा के रास्ते नकली नोट आ रहे हैं। गौरतलब है कि पाकिस्तान पहले भारत में नकली नोट भेजने के लिए नेपाल के रास्ते का उपयोग करता था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है