Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

भारत और रूस के संबंधों को मजबूत कर रहा रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट: सीएम

भारत और रूस के संबंधों को मजबूत कर रहा रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट: सीएम

- Advertisement -

शिमला। इंटरनेशनल रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट रूस और भारत के बीच विश्वास एवं शांतिपूर्ण संबंधों को मजबूत करने में एक महत्वूपर्ण भूमिका निभा रहा है। सीएम जयराम ठाकुर ने यह बात शुक्रवार को अंतरराष्ट्रीय रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट के न्यास बोर्ड की 18वीं बैठक की अध्यक्षता करते हुए कही।



जयराम ने कहा कि अंतरराष्ट्रीय रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट नगर के मुख्य स्थल पर विराजमान है और द्विपक्षीय रणनीतिक सांझेदारी की आध्यात्मिक प्रकृति के रूप में रूस और भारतीयों के दिलों को आकर्षित कर रहा है। उन्होंने कहा कि अटल बिहारी वाजपेयी के पीएम कार्यकाल के दौरान ट्रस्ट को दो करोड़ रुपए की राशि प्रदान की गई थी, ताकि न्यास अपनी गतिविधियों को और मजबूत कर सके।

सीएम ने कहा कि राज्य सरकार कला एवं संस्कृति के प्रमुख केंद्र के अलावा सैलानियों का मुख्य आकर्षण बनाने के लिए रोरिक आर्ट गैलरी को हर संभव सहायता प्रदान करेगी। उन्होंने कहा कि राज्य सरकार संग्रहालय अनुदान योजना के तहत अनुदान प्राप्त करने के लिए भारत सरकार के संस्कृति मंत्रालय को एक व्यापक प्रस्ताव भी भेजेगी। सीएम ने कहा कि भारत सरकार और रूस सरकार इस ट्रस्ट के रखरखाव और विकास में महत्वपूर्ण योगदान कर रही हैं। ट्रस्ट को आईसीआर मॉस्को के सक्रिय समर्थन के साथ भारत में रूसी दूतावास के माध्यम से राज्य सरकार और रूस सरकार द्वारा पारस्परिक सहयोग के आधार पर संचालित किया जा रहा है।

बैठक में इंटरनेशनल रोरिक गैलरीध्संग्रहालयों में प्रवेश शुल्क की दरों पर लिया निर्णय

बोर्ड की बैठक में निर्णय लिया गया कि अंतरराष्ट्रीय रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट परिसर को रोरिक विरासत के रूप में विकसित करने के साथ-साथ कलाकारों, विद्वानों, विशेषज्ञों के लिए विश्राम गृहों के निर्माण के लिए विकसित किया जाएगा। यह भी निर्णय लिया गया कि रोरिक मेमोरियल संग्रहालय परिसर रोरिक हाउस की बहाली को शामिल करके सृजित किया जाएगा।

बोर्ड ने बैठक में इंटरनेशनल रोरिक मेमोरियल ट्रस्ट गैलरी/संग्रहालयों में प्रवेश शुल्क की दरें तथा हेलेना रोरिक कला अकादमी में प्रवेश शुल्क और मासिक शुल्क की दरें निर्धारित करने का भी निर्णय लिया। चूंकि, लगभग 300 चित्रों को ट्रस्ट में विभिन्न कलाकारों द्वारा दान किया गया है, इसलिए यह निर्णय लिया गया कि इन चयनित चित्रों के प्रिंट की नीलामी की जाएगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है