Covid-19 Update

1,98,877
मामले (हिमाचल)
1,91,041
मरीज ठीक हुए
3,382
मौत
29,548,012
मामले (भारत)
176,842,131
मामले (दुनिया)
×

जयराम ठाकुर का खुलासा, Himachal में 61 फीसदी बढ़ा आबकारी राजस्व

मई, 2021 में कुल 500 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित

जयराम ठाकुर का खुलासा, Himachal में 61 फीसदी बढ़ा आबकारी राजस्व

- Advertisement -

शिमला। आबकारी एवं कराधान विभाग (Excise & Taxation Department) ने मई, 2021 में कुल 500 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया है। यह राजस्व मई, 2020 में अर्जित 310 करोड़ रुपये की तुलना में 61 प्रतिशत अधिक है। सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) ने आज यहां कहा कि महामारी की मौजूदा स्थिति के बावजूद मई, 2021 में प्रदेश वस्तु एवं सेवा कर के अंतर्गत 185 करोड़ रुपये, बिक्री कर/वैट के अंतर्गत 234 करोड़ रुपये, राज्य कर के अंतर्गत 50 करोड़ रुपये, अन्य कर और ड्यूटी के अंतर्गत 25 करोड़ और यात्री और वस्तु कर के अंतर्गत छह करोड़ रुपये राजस्व के रूप में अर्जित किए गए हैं, जबकि मई 2020 में प्रदेश वस्तु एवं सेवा कर (State Goods and Services Tax) के अंतर्गत 118 करोड़ रुपये, बिक्री कर/वैट के अंतर्गत 65 करोड़ रुपये, राज्य कर के अंतर्गत 108 करोड़ रुपये, अन्य कर और अन्य कर व ड्यूटी के अंतर्गत 15 करोड़ और यात्री और वस्तु कर के अंतर्गत तीन करोड़ रुपये राजस्व अर्जित किया गया था। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने लोगों के जीवन यापन में संतुलन बनाते हुए वर्तमान महामारी की स्थिति को नियंत्रित करने के लिए ध्यानपूर्वक व्यापक कदम उठाए हैं।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में कोरोना कर्फ्यू में मिल सकती है कुछ ढील, जयराम ने दिए संकेत

सीएम ने कहा कि आबकारी व कराधान विभाग द्वारा एकत्र कुल राजस्व विभिन्न राजस्व मदों के तहत लागू किया गया है। चालू माह में जीएसटी (GST) के अंतर्गत अर्जित राजस्व गत माह की उपलब्धियों को दर्शाता है। उन्होंने कहा कि मौजूदा महामारी के मद्देनजर करदाताओं को रिटर्न भरने में कुछ रियायतें दी गई हैं। इसके बावजूद विभाग ने मई 2021 में 185 करोड़ रुपये का राजस्व अर्जित किया, जो गत वर्ष के इसी माह में अर्जित राजस्व से 56 प्रतिशत अधिक है। उन्होंने कहा कि शराब की दुकानों को खोलने संबंधी प्रतिबंधों के कारण इस वर्ष मई माह के दौरान राजस्व एकत्रीकरण करने में कमी आई है। उन्होंने कहा कि विभाग ने आबकारी मद के तहत मई 2021 में 48 करोड़ रुपये और वैट मद के तहत 234 करोड़ रुपये अर्जित किए। उन्होंने कहा कि पेट्रोल पंपों (Petrol Pumps) की कार्य पद्धति में कोई प्रतिबंध नहीं लगाए गए हैं, इसलिए वैट राजस्व पर बहुत कम प्रभाव पड़ा है। उन्होंने कहा कि यदि अप्रैल और मई 2021 के कुल राजस्व 1,147 करोड़ की तुलना गत वर्ष इन्हीं महीनों के 387 करोड़ से की जाए तो कुल अर्जित राजस्व में 197 प्रतिशत की वृद्धि हुई है।


 

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए Subscribe करें हिमाचल अभी अभी का Telegram Channel

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है