Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

लो जी, अब 6 Minute में पहुंचेंगे Jakhu

लो जी, अब 6 Minute में पहुंचेंगे Jakhu

- Advertisement -

Jakhu ropeway: वीरभद्र सिंह ने किया जाखू रोप-वे का उद्घाटन

Jakhu ropeway: शिमला। क्या आप की ख्वाहिश पहाड़ों की राजधानी को ऊंचाई से निहारने की तो आप की यह ख्वाहिश पूरी हो चुकी है क्योंकि सीएम वीरभद्र सिंह ने अभी–अभी जाखू रोप-वे का उद्घाटन किया और इसके साथ ही जाखू रोप-वे का रोमांचकारी सफर भी शुरू हो गया। जाखू मंदिर पहुंचने के लिए यह एक और माध्यम मिला है और इसके माध्यम से छह मिनट में जाखू पहुंचा जा सकता है। इस मौके पर सीएम ने कहा कि इस रोप-वे के लगने से यहां पर्यटन को और बढ़ावा मिलेगा और सैलानी आसानी से जाखू मंदिर पहुंच सकेंगे। उन्होंने रोप-वे चलाने वाली कंपनी को शुभकामनाएं भी दी।

रोप-वे निर्माण में आईं बाधाएं

आखिरकार राजधानी शिमला का बहुप्रतिक्षीत जाखू रोप-वे आखिर पटरी पर आ ही गया है। एक दशक से अधिक समय में तैयार हुआ रोप-वे कई बाधाओं को पार करते हुए आज इस मुकाम पर पहुंचा, जिसका कई साल से इंतजार था। रोप-वे को लेकर पिछले वर्ष से लगातार ट्रायल हो रहे थे और ट्रायल के दौरान इसमें कमियां निकलती रही। पिछले वर्ष तो खाली डिब्बों के ट्रायल के दौरान केबिन ही तार से उतर गए थे। इसके बाद फिर इसकी तकनीकी खामियों को दूर किया गया और उसके बाद से फिर ट्रायल शुरू हुआ और आखिर सरकार ने सभी तरह से संतुष्ट होकर कंपनी को रोप-वे को नियमित रूप से चलाने को मंजूरी दी।


क्या खासियत व कितना किराया

इस रोप-वे के एक कैबिन में छह लोगों के बैठने की क्षमता है और एक साथ 24 लोग यात्रा कर सकेंगे। इसमें दो कैबिन नीचे से ऊपर की और दो ऊपर से नीचे की ओर एक साथ चलते हैं। सफर के लिए किराया भी तय कर दिया गया है। इसमें एक यात्री का एक तरफ का किराया 300 रुपए है और दोनों तरफ का किराया 550 रुपए तय किया गया है। बच्चों का एक तरफ का किराया 250 रुपए और दोनों तरफ का किराया 450 रुपए है। वहीं, हर दिन जाने वालों के लिए पास की भी व्यवस्था भी की गई है। अभी तक लोग जाखू मंदिर जाने को पैदल या फिर सड़क मार्ग का प्रयोग करते हैं।

सुबहः सात बजे से शाम सात बजे

स्विटजरलैंड की तकनीक पर तैयार किए गए इस रोप-वे की सुविधा सुबह सात बजे से शाम सात बजे तक मिलेगी।इस रोप-वे को बनाने के लिए 25 करोड़ रुपए खर्च किए हैं। 29 जुलाई, 2007 को  इसका शिलान्यास किया गया था और एक कंपनी ने इसका निर्माण किया था। यूएस क्लब गेट के पास रोप-वे का लोअर टर्मिनल बनाया गया है, जिसका दूसरा छोर जाखू में है।

राजनीतिक कड़वाहट भुलाकर Dhumal को कहा ‘जन्मदिवस मुबारक’

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है