×

Janjehli में फिलवक्त विराम, Alternative Situation तलाशने तक आंदोलन Postponed; Coordination Committee बनेगी

Janjehli में फिलवक्त विराम, Alternative Situation तलाशने तक आंदोलन Postponed; Coordination Committee बनेगी

- Advertisement -

संजीव कुमार/ गोहर। सीएम जयराम ठाकुर के लिए जंजैहली से बड़ी सुकून देने वाली खबर आ रही है, पिछले करीब दस दिन से चल रहा आंदोलन फिलवक्त आज रोक दिया गया है। बाकायदा एक को-आर्डिनेशन कमेटी का गठन किया जा रहा है, जिसमें बीजेपी, कांग्रेस के साथ-साथ कम्युनिस्ट पार्टी के सदस्यों को शामिल किया जाएगा। जोकि सरकार को पूरी स्थिति से अवगत करवाएगी, वैकल्पिक स्थिति तलाशने तक जंजैहली विवाद स्थगित रहेगा। ऐसा भी बताया जा रहा है कि तब तक वैकल्पिक आधार पर क्षेत्र में एसडीएम ऑफिस और अन्य कामकाज चलाने की व्यवस्था भी तलाशी जाएगी। इसके साथ ही कल यानी सोमवार को जंजैहली संघर्ष समिति के सदस्यों से भी बातचीत होगी। यह भी तय हुआ है कि को-आर्डिनेशन कमेटी के सदस्य सीएम जयराम ठाकुर से मिलकर बात करेंगे। इससे पहले आज दोपहर जंजैहली मसले पर बातचीत के लिए डीसी मंडी ऋग्वेद ठाकुर व एसपी गुरदेव स्वयं पहुंचे।


उन्होंने यहां स्थानीय प्रतिनिधियों से चर्चा कर इस मसले का हल ढूंढने के लिए सबकी राय जानी। यही नहीं बातचीत के लिए अधिवक्ता नंद लाल ठाकुर, यादविंद्र ठाकुर, हेम सिंह ठाकुर व संघर्ष समिति के अध्यक्ष नरेंद्र रेड्डी भी पहुंचे थे। उन्होंने भी स्थानीय प्रतिनिधियों से चर्चा की। यह सब कुछ शनिवार को जंजैहली में पत्थरबाजी जैसे घटनाक्रम के बाद हुआ है, ताकि भविष्य में इस तरह की घटना न हो। याद रहे कि शनिवार को जंजैहली में बेकाबू भीड़ की पत्थरबाजी में पुलिस जवान घायल हो गए थे, इनमें एक को गंभीर चोटें आई थी, जबकि ये जवान उस वक्त अपनी ड्यूटी निभा रहे थे।

गुस्साई भीड़ नहीं मानी और उन्होंने जैसे-तैसे सीएम जयराम ठाकुर का पुतला भी जला डाला। इसके बाद भी भीड़ नहीं मानी और सरकार के खिलाफ नारेबाजी करती रही। पुलिस भी हरकत में आई और प्रदर्शनकारियों के खिलाफ हत्या के प्रयास का मामला दर्ज कर लिया गया। इन्हीं सब का समाधान करने के लिए सरकार ने जिला प्रशासन-पुलिस को जिम्मा सौंपा। याद रहे कि जंजहैली में एसडीएम ऑफिस व छतरी में सब तहसील की नोटिफिकेशन हाईकोर्ट द्वारा रद करने के बाद ही क्षेत्र के लोग गुस्से में हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है