Covid-19 Update

2,17,140
मामले (हिमाचल)
2,11,871
मरीज ठीक हुए
3,637
मौत
33,504,534
मामले (भारत)
229,927,024
मामले (दुनिया)

झोलाछाप डॉक्टरों की खैर नहीं, मंत्री राजेन्द्र गर्ग ने स्वास्थ्य विभाग से मांगी रिपोर्ट

जनमंच में सारड़ा गांव के जैसी राम ने उठाया था मामला

झोलाछाप डॉक्टरों की खैर नहीं, मंत्री राजेन्द्र गर्ग ने स्वास्थ्य विभाग से मांगी रिपोर्ट

- Advertisement -

ऊना। चिंतपुर्णी (Chintpurni)  विधानसभा क्षेत्र के किन्नू में आयोजित जनमंच (Janmanch) कार्यक्रम के दौरान सारड़ा गांव के जैसी राम ने झोलाछाप डॉक्टरों की समस्या का मामला उठाया। उन्होंने कहा कि नीम हकीम जनता के स्वास्थ्य के साथ खिलवाड़ कर रहे हैं तथा इस समस्या के निपटारे के लिए तुरंत स्वास्थ्य विभाग को दिशा-निर्देश जारी किए जाएं। कार्यक्रम के मुख्यातिथि खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री राजेन्द्र गर्ग ने इस विषय का कड़ा संज्ञान लिया और कहा कि स्वास्थ्य विभाग 10 दिन के भीतर अपनी रिपोर्ट डीसी ऊना (DC Una) को प्रस्तुत करे। इसके अलावा थनिकपुरा निवासी चंद्र देव ने कहा कि पानी का टैंक बनाने के लिए उनके बुजु़र्गों ने विभाग को भूमि दान में दी थी और इस भूमि का इंतकाल भी जल शक्ति विभाग के नाम दर्ज किया गया है, लेकिन विभाग की यहां पर पानी का टैंक बनाने की कोई योजना नहीं है, इसलिए भूमि वापस उनके नाम पर हस्तांतरित की जाए। इस पर राजेन्द्र गर्ग ने राजस्व विभाग (Revenue Department) को एक माह के भीतर समस्या का निष्पादन करने के निर्देश दिए।

यह भी पढ़ें: Himachal : पंचायत में पैसे के दुरुपयोग पर वन मंत्री सख्त, BDO करेंगे जांच

कार्यक्रम के दौरान आरनवाल निवासी सुदेश कुमारी तथा लोहारा अप्पर निवासी राजेन्द्र कुमार ने मनरेगा के तहत मजदूरी का भुगतान ना होने की शिकायत की, जिस पर मुख्यातिथि ने तुरन्त कार्रवाई के निर्देश दिए। वहीं सिद्धचलेहड़ निवासी केहर सिंह ने किसानों को किसान क्रेडिट कार्ड के माध्यम से लोन ना मिलने की शिकायत की। उनकी समस्या के निवारण के लिए एलडीएम को त्वरित कार्रवाई करने के निर्देश जारी किए गए। जनमंच में अधिकतर समस्याएं राजस्व विभाग व ग्रामीण विकास विभाग से संबंधित थीं। कार्यक्रम के दौरान कुल 53 जन समस्याएं प्राप्त हुईं, जिनमें से 12 समस्याएं प्री-जनमंच गतिविधियों के दौरान सामने आईं, चयनित ग्राम पंचायतों से कुल 27 जन समस्याएं प्राप्त हुईं, जबकि 14 समस्याएं कलस्टर के बाहर की पंचायतों से मिलीं। इस जनमंच कार्यक्रम के लिए 7 ग्राम पंचायतों सिद्ध चलेहड़, घेवट बेहड़, सारड़ा, लोहारा अप्पर व लोअर, भगड़ा व मंधोली ग्राम पंचायतों का चयन किया गया था।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है