Expand

भूल जाओः नीरज के जवाली में नहीं रैहन में खुलेगा महिला Polytechnic

भूल जाओः नीरज के जवाली में नहीं रैहन में खुलेगा महिला Polytechnic

- Advertisement -

जवाली। महिलाओं के लिए Polytechnic संस्थान खुलेगा पर यह वीरभद्र सरकार में सीपीएस नीरज भारती के जवाली क्षेत्र में नहीं बल्किbali3 रैहन में। जवाली में इस बात को लेकर हलचल शुरू हो गई कि नीरज भारती से छत्तीस का आंकड़ा रखने वाले वीरभद्र सरकार में परिवहन का जिम्मा देख रहे जीएस बाली, जवाली पर इतने मेहरबान कैसे हो गए, कि महिला Polytechnic खोलने चल पड़े।

  • तहकीकात करने पर पता चला यह तो वीरभद्र सरकार में ऊर्जा विभाग देख रहे सुजान सिंह पठानिया के फतेहपुर विधानसभा क्षेत्र के तहत आते रैहन के लिए मंजूर हो रखा है।
  • दरअसल शुक्रवार को जीएस बाली राजकीय बहुतकनीकी संस्थान कांगड़ा में 22वीं अंतर बहुतकनीकी खेलों के समापन अवसर पर बतौर मुख्यातिथि पहुंचे थे। इसी कार्यक्रम में उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार ने तकनीकी शिक्षा को बढ़ावा देने के लिए इस वित्त वर्ष में 204 करोड़ रुपए बजट का प्रावधान किया है।

bali2साथ ही कहा कि एशियाई विकास बैंक के सहयोग से जवाली क्षेत्र में महिलाओं के लिए पॉलिटेक्निक संस्थान खोला जाएगा। यहीं से मामला उठा की बाली कैसे नीरज भारती पर मेहरबान हो उठे कि जवाली में महिला पॉलिटेक्निक खोलने चल पड़े। सच्चाई यह है कि यह महिला पॉलिटेक्निक 26 करोड़ की लागत से बनेगा, जिसके लिए अधिसूचना भी जारी हो चुकी है, पर जवाली नहीं  रैहन में। इसके लिए 19 मार्च 2016 को सरकार ने अधिसूचना भी जारी कर दी थी। बीती नौ सितंबर को यहां पढ़ाए जाने वाले ट्रेड भी तय हो चुके हैं, जिनमें सिविल,आर्किटेक्ट व कम्प्यूटर इंजीनियरिंग शामिल हैं। यहां पर 61 टीचिंग व नॉन टीचिंग स्टाफ तैनात होगा। याद रहे कि नीरज-बाली के बीच की जंग पिछले दिनों खूब उछली थी। नीरज ने बाली पर खूब तंज कसे तो बाली समर्थक भी पीछे नहीं रहे। लेकिन जब नीरज ने कुछ सच्चाइयां उजागर करने की बात कही तो बाली समर्थक पीछे हट गए। उसके बाद मामला शांत तो हुआ पर खत्म नहीं। मौके की तलाश में हैं दोनों जब-जब कुछ हाथ लगेगा फिर आमने-सामने होंगे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है