×

Kullu : बंजार के जवान का सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

Kullu : बंजार के जवान का सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार

- Advertisement -

कुल्लू। बंजार घाटी के गरूली गांव के जवान का आज सैन्य सम्मान के साथ अंतिम संस्कार कर दिया गया। लोगों ने नम आंखों से जवान को अंतिम विदाई दी। गुरुवार सुबह जवान की पार्थिव देह उसके पैतृक गांव गरूली पहुंची। जिस देखते ही जवान की पत्नी बेसुध हो गई। गांव वाले परिजनों को ढांढस बधा रहे थे। इसके बाद जवान का सैन्य सम्मान के साथ गांव के श्मशान घाट पर  अंतिम संस्कार किया गया। जवान के परिवार में माता पिता के अलावा भाई-भाभी , पत्नी व छह माह का मासूम भी है।


गौर हो कि बंजार घाटी (Banjar Valley) की शिल्ली पंचायत के गरूली गांव के एक सैनिक की बीते दिन राजस्थान में सड़क हादसे में मौत हो गई थी। जवान लगन चंद (27) पुत्र झुड़ू राम तोपखाना 94 मध्यम रेजिमेंट राजस्थान में तैनात थे।परिवहन मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर व बंजार के विधायक सुरेंद्र  शौरी ने शहीद जवान के गांव पहुंचकर श्रद्धांजलि दी।

राजस्थान में ड्यूटी के दौरान जान गंवाने वाले जवान के परिवार की मदद के लिए अन्नपूर्णा सोसायटी कुल्लू ने हाथ बढ़ाया है। सोसायटी ने लगन चंद के परिवार के नाम डाकघर में ढाई लाख रुपए की एफडी करवाने का निर्णय लिया है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group

सोसायटी के पदाधिकारी विनीत सूद ने बताया कि इस ढाई लाख रुपए की एफडी के मासिक ब्याज से लगन चंद के परिजनों को नियमित रूप से आर्थिक मदद मिलती रहेगी। लगन चंद के बच्चे की पढ़ाई का पूरा खर्चा भी अन्नपूर्णा सोसायटी वहन करेगी। विनीत सूद ने बताया कि लगन चंद के माता-पिता को कोई पेंशन नहीं मिलती है और उनका बड़ा भाई भी केवल खेती-बाड़ी से ही गुजारा करता है। परिवार की तंग आर्थिक हालत को देखते हुए अन्नपूर्णा सोसायटी ने इनकी मदद करने का निर्णय लिया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है