×

Himachal : सड़कों पर उतरे बेरोजगार जेबीटी- डीएलएड प्रशिक्षित, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

सीएम जयराम को ज्ञापन सौंप उच्च न्यायालय में मजबूती से पक्ष करने की अपील की

Himachal : सड़कों पर उतरे बेरोजगार जेबीटी- डीएलएड प्रशिक्षित, सरकार के खिलाफ की नारेबाजी

- Advertisement -

कुल्लू / धर्मशाला। शिक्षा मंत्री गोविंद सिंह ठाकुर (Education Minister Govind Singh Thakur) के गृह जिला कुल्लू (Kullu) में जेबीटी/डीएलएड प्रशिक्षित बेरोजगार संघ ने प्रदेश सरकार के खिलाफ मोर्चा खोल दिया है। सैंकड़ो बेरोजगार प्रशिक्षिको ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी (Protest) की और प्रदेश सरकार से जेबीटी प्रशिक्षित बेरोजगारों के पक्ष को मजबूती के साथ उच्च न्यायालय में रखने के लिए सीएम जय राम ठाकुर को ज्ञापन भेजा। इस दौरान कुल्लू महाविद्यालय के गेट से लेकर डीसी कार्यालय तक जेबीटी, डीएलएड (JBT, DLED) प्रशिक्षित बेरोजगारों ने रोष रैली निकाली। जेबीटी, डीएलएड प्रशिक्षित बेरोजगार संघ (JBT, DLED trained unemployed union) के अध्यक्ष नरेंद्र सिंह ने बताया कि जेबीटी प्रशिक्षितों की पिछले 2 सालों से जेबीटी, बीएड के बीच भर्ती को लेकर मामला कोर्ट में विचाराधीन है। उन्होंने कहा कि जेबीटी प्रशिक्षितों को मानसिक व शारीरिक प्रताड़ना का शिकार होना पड़ रहा है। दूर दराज क्षेत्रों से युवा जेबीटी कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि प्रदेश में करीब 40 हजार जेबीटी डीएलएड के बेरोजगारों के साथ सरकार न्याय करे और 3 मार्च को होने वाली सुनवाई में सरकार जेबीटी प्रशिक्षिकों का पक्ष रखें और उन्हें न्याय दिलाए।


यह भी पढ़ें: जेबीटी पदों पर बीएड वालों की तैनाती के निर्णय से जेबीटी संघ खफा, सीएम से लगाई यह गुहार

वहीं जिला कांगड़ा के धर्मशाला (Dharamshala) में भी जेबीटी,डीएलड प्रशिक्षित बेरोजगार संघ ने अपनी मांगों के समर्थन में रोष रैली निकाली और सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। जेबीटी प्रशिक्षु पुलिस मैदान धर्मशाला में इकट्ठे हुए और उन्होंने पुलिस मैदान से शहीद स्मारक होते हुए कचहरी व जिलाधीश कार्यालय तक रोष रैली निकाली। इसके बाद जिलाधीश कांगड़ा को ज्ञापन (Memorandum) सौंपा। जेबीटी प्रशिक्षु मांग कर रहे हैं कि जेबीटी के पदों पर सिर्फ और सिर्फ जेबीटी ही भर्ती किए जाएं। उन्होंने बीएड प्रशिक्षितों को जेबीटी के पदों पर ना रखने की मांग की है। उन्होंने इस पर आपत्ति जताई है। प्रशिक्षुओं ने सरकार को चेतावनी दी है कि जेबीटी के पदों पर अन्यों को तरजीह दी जाती है तो इसका पुरजोर विरोध होगा और आगमी दिनों में जेबीटी प्रशिक्षित अपने आंदोलन को तेज करेंगे। इस दौरान प्रशिक्षुओं ने प्रदेश सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

नाहन में एक सूत्रीय मांग को लेकर मुख्यमंत्री को भेजा ज्ञापन

 

नाहन। जिला मुख्यालय नाहन में आज सैंकड़ों जेबीटी प्रशिक्षुओं ने अपनी एक सूत्रीय मांग को लेकर शहर भर में रैली निकाली। इसके बाद जेबीटी प्रशिक्षुओं ने डीसी के माध्मम से सीएम को ज्ञापन भी भेजा। दरअसलए जेबीटी प्रशिक्षुओं की मांग है कि प्रदेश में बीएड धारकों को जेबीटी के समकक्ष ना समझा जाए। यदि बीएड धारकों को जेबीटी भर्ती के लिए पात्र माना जाता हैं तो जेबीटी की डिग्री प्राप्त कर चुके सैंकड़ों अभ्यर्थियों के भविष्य का क्या होगा। लिहाजा बीएड को जेबीटी व डीएलएड के साथ कंपेयर ना किया जाए। प्रशिक्षुओं ने बताया कि बीएड धारकों की भर्तियों में हस्तक्षेप के बाद हाल ही में जेबीटी की बैचवाइज भर्तियां भी प्रभावित हुई हैं। प्रशिक्षुओं ने मांग की है कि आगामी 27 फरवरी को हिमाचल सरकार न्यायालय में जेबीटी प्रशिक्षुओं के समर्थन में अपना जवाब देए ताकि प्रदेश के हजारों जेबीटी प्रशिक्षुओं को राहत मिल सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है