बिना UGC-NET के मिल सकता है PhD में एडमिशन, जानें क्या है प्रक्रिया

रेगुलर पीएचडी और पार्ट टाइम पीएचडी के तहत ले सकते हैं एडमिशन

बिना UGC-NET के मिल सकता है PhD में एडमिशन, जानें क्या है प्रक्रिया

- Advertisement -

नई दिल्ली। PhD का सपना देखने वाले लोगों के लिए यह खबर काम की है क्योंकि यहां हम आपको बताने जा रहे हैं कि अगर आप UGC-NET क्वालीफाई नहीं कर पाते हैं तो भी आप पीएचडी में एडमिशन ले सकते हैं। UGC-NET क्लियर करने के बाद छात्र कॉलेज में पढ़ाने के काबिल हो जाते हैं। PHD करने के दो तरीके हैं, रेगुलर पीएचडी और दूसरा पार्ट टाइम पीएचडी। रेगुलर पीएचडी के लिए आपको तीन साल तक विश्वविद्यालय में रहना होता है। पार्ट टाइम पीएचडी की अवधि पांच साल की होती है।


यह भी पढ़ें :- इसी महीने जारी हो सकते हैं CBSE 10th-12th के एडमिट कार्ड

UGC NET/SET/JRF- अगर आप यूजीसी नेट या जेआरएफ क्वालिफाई हैं तो यूजीसी के नियमानुसार अभी तक आपको रिटेन टेस्ट नहीं देना पड़ता है। UGC NET/SET/JRF उम्मीदवार इंटरव्यू से नहीं बच सकते।  इसे क्वॉलिफाई करने के बाद ही पीएचडी में इनरोलमेंट करा पाएंगे। कई विश्वविद्यालय इसके लिए सिनॉप्सिस प्रजेंटेशन भी लेते हैं। SET (STATE ELIGIBILITY TEST) होता है। यह उम्मीदवार के राज्य के विश्वविद्यालय में पीएचडी प्रवेश में नेट की तरह काम करता है, लेकिन केंद्रीय विश्वविद्यालयों में नहीं

अगर उम्मीदवार ने एमफिल कर रखा है और वह पीएचडी में प्रवेश चाहता हो तो उसे रिटेन टेस्ट से छूट मिल जाती है। वह केवल इंटरव्यू क्वालिफाई करके पीएचडी में प्रवेश ले सकता है। लेकिन कुछ विश्वविद्यालयों एमफिल वालों को भी रिटेन देना पड़ता है। आवेदक को विश्वविद्यालय द्वारा आयोजित एंट्रेस एग्जाम क्वालिफाई करना होता है, जो लोग इसे क्वालिफाई कर लेते हैं उनको इंटरव्यू के लिए बुलाया जाता है। इंटरव्यू के बाद मैरिट लिस्ट बनती है, इसमें भी आरक्षण मिलता है। इसके बाद एक फाइनल मैरिट लिस्ट बनती है।

हिमाचल अभी अभी Mobile App का नया वर्जन अपडेट करने के लिए इस link पर Click करें

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

मुकेश ने कसा तंज़- हाथ ना मिलाना या फिर मिलाते हुए झटक देना, यह BJP का अंदरूनी मामला

परीक्षार्थियों का आरोप: घंटों बैठाने के बाद रिजेक्ट कर निकाला बाहर; जानें पूरा मामला

ब्रेकिंग: चंबा में हिली धरती, जानें कितनी तीव्रता वाला भूकंप आया

कुफ़री: बर्फबारी के बीच फंसे 187 पर्यटकों को किया गया रेस्क्यू

Una Hospital में प्रसव के बाद महिला मौत मामला: पुलिस ने चिकित्सक के खिलाफ दर्ज किया केस

पोलियो ड्रॉप्स पिलाने जा रही Anganwadi Worker बर्फ पर फिसली, गई जान

रायजादा का आरोप- निजी क्लीनिक भी चला रहे Una Hospital में तैनात डॉक्टर

शिरडी विवाद : शिवसेना सांसद ने खुद को बताया साईं भक्त, कहा - 'सीएम से करूंगा बात'

सोलन में पत्नी ने रेता पति का गला, गंभीर हालत में PGI रेफर

शीतलहर की चपेट में Himachal, पांच जिलों में हिमस्खलन का खतरा

पुलिस ने दड़े- सट्टे की पर्चियों समेत करंसी के साथ धरा सट्टेबाज

नीति आयोग के सदस्य का विवादित बयान : 'जम्मू में Internet का यूज़ 'गंदी फिल्में' देखने में होता है'

CBSE ने जारी किए 10वीं-12वीं बोर्ड परीक्षा के लिए एडमिट कार्ड

पल्स पोलियो अभियान : Himachal में नौनिहालों ने गटकी दो बूंद जिंदगी की

Delhi के टैक्सी ड्राइवर की Manali में गई जान, जांच में जुटी पुलिस

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है