Covid-19 Update

2,01,054
मामले (हिमाचल)
1,95,598
मरीज ठीक हुए
3,446
मौत
30,082,778
मामले (भारत)
180,423,381
मामले (दुनिया)
×

चुनावी घमासान : Dhumal के CM चेहरा बनते ही Jogindernagar में बदले सियासी समीकरण

चुनावी घमासान : Dhumal के CM चेहरा बनते ही Jogindernagar में बदले सियासी समीकरण

- Advertisement -

ओमप्रकाश चौहान /जोगिंद्रनगर। प्रेम कुमार धूमल को सीएम का चेहरा घोषित करने से जोगिंद्रनगर के सियासी समीकरण ‘कु़ड़म-कुड़म‘ के इर्द-गिर्द मंडराते नजर आने लगे हैं और फिजां में भाजपाइयों के चेहरों पर आया निखार छिपाए भी नहीं छिप रहा। ओपिनियन पोल से उत्साहित बीजेपी कार्यकर्ता प्रेम कुमार धूमल को सीएम के चेहरे के रूप में पेश करने से विधायक व बीजेपी प्रत्याशी गुलाब सिंह ठाकुर को अगली बीजेपी सरकार में एक बार फिर बड़े रुतबे पर देख रहे हैं। पिछली बीजेपी सरकार में भी गुलाब सिंह ठाकुर लोक निर्माण विभाग व राजस्व जैसे महत्वपूर्ण महकमे देख रहे थे। धूमल की घोषणा से गुलाब सिंह ठाकुर को सीधा फायदा मिलता दिख रहा है, क्योंकि वह धूमल के समधी व सांसद अनुराग ठाकुर के ससुर हैं। अमित शाह की घोषणा के साथ ही बदले समीकरणों के चलते गुलाब सिंह के इर्द-गिर्द भीड़ का दायरा और अधिक बढ़ना शुरू हो गया। उनकी चुनावी सभाओं में भी अलग नजारा देखने को मिलने लगा है।

इस बार मेरा आखिरी चुनावः गुलाब सिंह ठाकुर

गुलाब सिंह ठाकुर द्वारा इस बार अपना आखिरी विधानसभा चुनाव घोषित किया जा चुका है और कुछ खास करने की घोषणा के साथ वह विधानसभा में पहुंचाने की अपील कर रहे हैं। उन्होंने यह भी कहा है कि अगली बार जोगिंद्रनगर हलके से कमान युवाओं के हाथ में दी जानी चाहिए क्योंकि 1977 में जब वह विधायक बने थे तो उनकी आयु केवल 27 साल थी। अपने पुत्र को उन्होंने समाजसेवी बताया तथा राजनीति में न लाने की बात भी कही। जोगिंद्रनगर के चुनाव मैदान में उतरे पांचों प्रत्याशी अपने-अपने स्तर पर प्रचार अभियान में जुटे हुए हैं और इसमें कोई भी कोर-कसर बाकी नहीं रहने देना चाहते। बीजेपी के गुलाब सिंह ठाकुर, कांग्रेस के एडवोकेट जीवन लाल ठाकुर, माकपा के कुशाल भारद्वाज, बसपा के हेतराम वर्मा व निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश राणा इस दंगल में कूदे हुए हैं। गुलाब सिंह की बहू मेघना ठाकुर, प्रकाश राणा की पत्नी रीमा राणा सहित अन्य पारिवारिक महिलाएं भी प्रत्याशियों की मदद में प्रचार कर रही हैं। निर्दलीय प्रत्याशी प्रकाश राणा की वजह से यह हलका प्रदेश भर में चर्चा का विषय बना हुआ है क्योंकि विदेशों में कारोबार करने वाले जोगिंद्रनगर हलके के गोलवां निवासी प्रकाश राणा को प्रदेश का सबसे धनवान प्रत्याशी माना जा रहा है और उनकी संपत्ति 3.52 अरब बताई जा रही है। हालांकि यह आंकड़ा सही है या नहीं इस बारे पुष्टि नहीं की जा सकती, लेकिन अनेकों स्थानों पर इस आंकड़े को गलत बताया जा रहा है क्योंकि कहा जा रहा है कि नामांकन के दौरान प्रकाश प्रेम कुमार (प्रकाश राणा) ने किसी भी सूरत में इतनी संपत्ति घोषित नहीं की है और करीब 34-35 करोड़ की जायदाद बताई है।

2016-17 में 54 लाख थी प्रकाश कुमार की आमदन

वर्ष 2016-17 में प्रकाश प्रेम कुमार की आमदन करीब 54 लाख रुपए घोषित की गई है। सियासत में आकर समाजसेवा का लक्ष्य पूरा करना चाहते प्रकाश राणा किसी भी तरह से कमजोर साबित नहीं होना चाहते और उन्होंने प्रचार अभियान में कोई कमी नहीं रखी। यह तो फिलहाल नहीं कहा जा सकता कि परिणाम क्या होंगे, लेकिन इतना तो लग ही रहा है कि निकटतम प्रतिद्वंदी गुलाब सिंह ठाकुर व प्रकाश राणा ही हो सकते हैं, यह बात दीगर है कि नित बदलते राजनीतिक समीकरणों में कौन किस पर भारी पड़ जाए। कांग्रेस प्रत्याशी जीवन लाल ठाकुर जोगिंद्रनगर ब्लॉक कांग्रेस के अध्यक्ष भी हैं और वीरभद्र सिंह के खास सिपहसालार पूर्व विधायक एवं प्रदेश सामान्य उद्योग निगम के उपाध्यक्ष सुरेंद्र पाल के मुकाबले कांग्रेस का टिकट झटकने में कामयाब रहे हैं। कांग्रेस के कार्यकर्ता जीजान से जीवन लाल के प्रचार में जुटे हैं। माकपा उम्मीदवार कुशाल भारद्वाज ने भी शुरू से ही अपने प्रचार की धार तेज रखी हुई है, जिसमें वह कमी नहीं आने दे रहे जबकि बसपा प्रत्याशी हेत राम वर्मा भी प्रचार में जुटे हैं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है