Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

Truck ऑपरेटरों ने दो घंटे किया चक्का जाम, दी गिरफ्तारियां

Truck ऑपरेटरों ने दो घंटे किया चक्का जाम, दी गिरफ्तारियां

- Advertisement -

JP Baga Cement Plant : बिलासपुर। जेपी बागा सीमेंट प्लांट से लगभग 30 करोड़ का बकाया राशि का भुगतान न होने पर ट्रक ऑपरेटरों के सब्र का बांध टूट गया है। आज ट्रक ऑपरेटरों ने खारसी चौक पर चक्का जाम कर गिरफ्तारियां दीं। साथ ही प्रशासन को चेताया कि अगर कंपनी शीघ्र ही उनकी बकाया राशि का भुगतान नहीं करती है तो हर रोज खारसी चौक पर चक्का जाम होगा और गिरफ्तारियां देंगे। ट्रक ऑपरेटरों ने खारसी चैक पर दो घंटे तक चक्का जाम किया। सूचना मिलते ही एसडीएम हरीश गज्जू व डीएसपी सोमदत्त खारसी चौक पहुंचे और प्रदर्शनकारियों को समझाने की कोशिश की, लेकिन प्रदर्शनकारियों ने प्रशासन की हर बात को सिरे से नकार दिया। आखिर में पुलिस को उन्हें गिरफ्तार कर करना पड़ा। करीब 50 से 60 लोगों ने गिरफ्तारियां दीं। बता दें कि समन्वय ट्रक ऑपरेटर संघर्ष समिति ने जेपी कंपनी के खिलाफ 35 दिन से प्रदर्शन कर रही है।  बिलासपुर तथा सोलन जिले के लगभग 4000 ऑपरेटर संयुक्त रूप से इस आंदोलन में शामिल हो गए हैं।


खारसी चौक पर दो घंटे तक चक्का जाम

आज खारसी चौक पर दो घंटे तक चक्का जाम किया। दो घंटे तक नवगांव बेरी तथा बागा की सड़क अवरुद्ध रही। खारसी सभा के महासचिव दौलत सिंह ठाकुर, कोहिनूर सभा प्रधान प्रेम सिंह ठाकुर, ऋषि मार्कन्डेय भूतपूर्व साइनेट सभा अध्यक्ष केप्टन सुरेन्द्र सिंह तथा समन्वय समिति के सचिव सुरजीत सेन ने कहा कि जेपी बिलासपुर व सोलन के लगभग 4000 ऑपरेटर ढुलाई कार्य कर रहे हैं। उन्हें एग्रीमेंट के अनुसार हर सप्ताह भुगतान किया जाता था, परंतु पिछले दो वर्षों से ये भुगतान नियमित रूप से नहीं हो रहा है। नतीजन ऑपरेटरों का 40 करोड़ रुपये जेपी कंपनी के पास बकाया हो गया। इस ट्रकों कि कीमत अरबों में सभी ऑपरेटरों ने अपनी जमीन गिरबी रखकर ये ट्रक डाले हैं। जेपी कंपनी उनका माल ढुलाई का भुगतान समय पर नहीं कर रही है, जिसके कारण ऑपरेटरों की आर्थिक स्थिति बिगड़ गई है। लगभग 1100 ट्रकों को बैंक व फाइनॉसर किस्त न दे पाने की वजह से उठा कर ले गए हैं। अब बैंक व फाइनॉस कंपनियां अपनी रकम के लिए लोगों कि जमीनों की नीलामी करने जा रही हैं। उन्होंने कहा कि प्रशासन भी हमारी कोई मदद न कर रहा है । प्रशासन को चाहिए कि वो कंपनी से हमारे बकाया 30 करोड़ हमें दिला दें।


प्रशासन ने हमेशा ट्रक ऑपरेटरों का दिया साथ 

ट्रक ऑपरेटरों से बातचीत में एसडीएम तथा डीएसपी बिलासपुर ने कहा कि प्रशासन ने हमेशा ही ट्रक ऑपरेटरों का साथ दिया है और पिछली बार भी जब 26 करोड़ जेपी के पास बकाया फंस गया था, उनकी पाई-पाई ट्रक ऑपरेटरों को दिलवाई थी। आज भी कंपनी से लगातार इस बारे में बात की जा रही है तथा नई कंपनी अल्ट्रा टैक से भी टेकओवर पर बात चली है, जिससे की ये स्थिति सुधार सकें। उन्होंने कहा 15 मई तक का इंतजार करें, तब तक इस समस्या का हाल निकाल दिया जाएगा । स्थानीय ट्रक ऑपरेटरों ने बिलासपुर प्रशासन की बात का खंडन करते हुए कहा कि आज वे कंपनी से पूरे पैसे दिलवा दें, तभी वे जाम खोलेंगे अन्यथा सभी ट्रक ऑपरेटरों को जेल में डाल दिया जाए। प्रशासन के हर बात का खंडन ट्रक ऑपरेटरों ने किया तथा पुलिस को मजबूरी में ट्रक ऑपरेटरों को गिरफ्तार करना पड़ा।

नौकरियांः भरे जाएंगे 200 पंचायत तकनीकी सहायकों के पद

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है