Covid-19 Update

2,18,314
मामले (हिमाचल)
2,12,899
मरीज ठीक हुए
3,653
मौत
33,678,119
मामले (भारत)
232,488,605
मामले (दुनिया)

कड़छम प्रोजेक्ट में कर्मचारी पर जबरन Retirement का बनाया दबाव, कर ली आत्महत्या

कड़छम प्रोजेक्ट में कर्मचारी पर जबरन Retirement का बनाया दबाव, कर ली आत्महत्या

- Advertisement -

भावानगर। जिला किन्नौर (Kinnaur) के थाना भावा नगर के तहत जेएसडब्ल्यू कंपनी (JSW Company) के कड़छम प्रोजेक्ट में कार्यरत एक कर्मचारी ने अपने कमरे में फंदा लगा कर आत्महत्या (Suicide)  कर ली है। पुलिस को सुसाइड नोट भी बरामद हुआ है, जिसमें कर्मचारी ने कंपनी के एचआर विभाग के कुछ अधिकारियों द्वारा प्रताड़ित किए जाने का आरोप लगाया है। वहीं, कर्मचारी के प्रताड़ित होकर आत्महत्या करने पर सीटू ने शव के साथ कंपनी के खिलाफ हल्ला बोल दिया है। सीटू नेता कंपनी के परियोजना अधिकारी के मौके पर आना के लिए अड़े हुए हैं।

यह भी पढ़ें:  कोरोना पॉजिटिव के संपर्क में आए युवकों ने उपप्रधान पर रॉड से किया Attack

 

बता दें कि  जेएस डब्ल्यू कंपनी के कड़छम प्रोजेक्ट में कार्यरत एक कर्मचारी के अपने कमरे में फंदा लगा कर आत्महत्या करने की सूचना पुलिस को मिली। सूचना पर डीएसपी भावानगर, प्रभारी थाना भावानगर, पुलिस (Police) टीम सहित मौके पर पहुंचे, जहां जय प्रकाश विश्वकर्मा (45) निवासी गांव परेड़ी, जिला सतना बिहार, मध्य प्रदेश अपने कमरे में मृत पाया गया, जिसने फंदा लगा कर अपनी जीवन लीला समाप्त कर ली थी। कर्मचारी उपरोक्त कंपनी में बतौर कॉरपेंटर कार्य करता था। कर्मचारी प्रातः 8.30 बजे के बाद अपने कमरे से नहीं निकला था। कमरे में एक सुसाइड नोट बरामद हुआ है, जिसमें कर्मचारी ने कंपनी के एचआर विभाग के कुछ अधिकारियों पर उसे प्रताड़ित करने के आरोप लगाए हैं। पुलिस की प्रारंभिक जांच में भी पाया गया कि कंपनी के एचआर विभाग (HR Department) के अधिकारियों द्वारा कर्मचारी को दो-तीन दिन से कार्यालय में बुला कर जबरन रिटायरमेंट (Retirement)  लेने के लिए दबाव बनाया जा रहा था।

यह भी पढ़ें: कोरोना काल में लापरवाही, Himachal में बेटे की जगह बाप को बता दिया Positive

 

 

यह भी पढ़ें: हिमाचल कांग्रेस का Raj Bhavan के बाहर धरना-प्रदर्शन, जयराम सरकार के खिलाफ निकाला गुस्सा

कर्मचारी के आत्महत्या करने की खबर का पता चलते ही मौके पर लगभग 250 कर्मचारी व सीटू (CITU) कार्यकर्ता एकत्रित हो गए, जिन्होंने कंपनी मैनेजमेंट के विरूद्व नारेबाजी की। इनका कहना है कि जब तक मौका पर कंपनी के परियोजना अधिकारी प्रवीन पुरी नहीं आते तब तक ये शव को उठाने नहीं देंगे। मौका पर परियोजना अधिकारी प्रवीन पुरी का इंतजार किया जा रहा है, जिसके आने के बाद शव का पोस्टमार्टम करवा कर जैसी भी स्थिति होगी, कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। मौका पर अभी तक स्थिति नियंत्रण में है। पुलिस द्वारा घटना स्थल पर शांति व्यवस्था बनाए रखने का हर संभव प्रयास किया जा रहा है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है