Expand

Jwalaji मंदिर चढ़ावा मामलाः DC साहब, कुछ तो गड़बड़ है

Jwalaji  मंदिर चढ़ावा मामलाः DC साहब, कुछ तो गड़बड़ है

- Advertisement -

धर्मशाला। आम आदमी पार्टी के नेता अमित कपूर ने ज्वालामुखी मंदिर के चढ़ावा गणना कक्ष में ट्रस्टियों द्वारा मंदिर अधिकारी की मिली भगत से मंदिर के चढ़ावे में सेंध लगाने का आरोप लगाया है। इस संबंध में उन्होंने एक शिकायत पत्र डीसी कांगड़ा को भी  सौंपा गया है। धर्मशाला में पत्रकारों से मामला साझा करते हुए अमित कपूर ने कहा कि ज्वालामुखी मंदिर के गणना कक्ष जहां करोड़ों लोगों के चढ़ावे की गिनती की जाती है, वहां की सीसीटीवी की फुटेज आरटीआई के माध्यम से मांगी थी। 5, 9 व 15 अक्तूबर को चढ़ावे की गिनती मंदिर जिन ट्रस्टियों व अधिकारियों ने की थी, उनकी सीसीटीवी फुटेज मांगी गई थी।

  • jwala-jiआप नेता ने लगाया मंदिर अधिकारी पर मिलीभगत का आरोप
  • डीसी कांगड़ा को शिकायत पत्र लिख जांच की मांग की

कपूर ने बताया कि मंदिर प्रशासन ने गणना कक्ष में हुई 9 व 15 अक्तूबर की गणना सीडी मुहैया करवाई है जबकि 5 अक्तूबर की गणना की रिकॉर्डिंग गायब कर दी गई है। उन्होंने बताया कि 9 अक्तूबर की गणना कक्ष की रिकॉर्डिंग में यह स्पष्ट तौर पर दिखाई दे रहा है कि  गणना में मंदिर अधिकारी उपस्थित है और वह चढ़ावे की गणना से थोड़ी देर के लिए गायब हो जाता है और मंदिर ट्रस्टी हाथ में पकड़े हुए नोटों के नीचे फोल्ड कर छिपा देता है और बाद में अपनी जेब में डाल देता है। इसी प्रकार 15 अक्तूबर, 2016 को भी  मंदिर ट्रस्टी भवानी दत्त ने गणना करवाई और इस सीसीटीवी फुटेज में गणना के दौरान कई बार चढ़ावे को जेब में डालने की संदिग्ध गतिविधियां सामने आई हैं।

शहरवासियों के मुताबिक 5 अक्तूबर को भी उक्त ट्रस्टी ने गणना के दौरान चढ़ावे में सेंध लगाई थी, जिस कारण उस दिन की सीसीटीवी फुटेज को गायब कर दिया गया। कपूर का आरोप है कि आरटीआई से खुलासा हुआ है कि भवानी दत्त को जब भी मौका मिलता है गणना कक्ष में jwala-ji-2कुछ गड़बड़ करता है। जो अपराध की श्रेणी में आता है। इस पूरे मामले का वीडियो भी सोशल मीडिया पर पूरी तरह से वायरल हो चुका है। उन्होंने आरोप लगाया कि ज्वालामुखी मंदिर में मंदिर अधिकारी की मिलीभगत से भ्रष्टाचार  हो रहा है और इस मामले को मंदिर अधिकारी दबाने का प्रयास कर रहे हैं।

इतना सब कुछ होने के बावजूद जिला प्रशासन इस गोलमाल को लेकर कोई भी  केस दर्ज नहीं कर रहा है। इससे पूर्व भी  एक ऐसे मामले में संलिप्त एक मंदिर अधिकारी के खिलाफ जिला प्रशासन ने सख्त कार्रवाई अमल में लाते हुए उसकी समस्त शक्तियां तत्काल प्रभाव  से छीन ली थी, लेकिन इस मामले में अभी  ऐसा कुछ भी  नहीं हो पाया है, जिससे दोषियों को सजा मिल सके।

कपूर ने  करोड़ों लोगों की भावनाओं  से हो रहे इस खिलवाड़ पर लगाम लगाने के लिए प्रशासन से मांग की है और कहा कि उक्त मामले में केस दर्ज कर दोषियों को मंदिर की सेवाओं से बर्खास्त किया जाए। अगर इतने सबूत होने के बाद भी  प्रशासन कोई केस दर्ज नहीं करता तो इलाके की जनता धरना प्रदर्शन करेगी, जिसकी पूरी जिम्मेदारी जिला प्रशासन की होगी।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है