Expand

Accuracy Championship: कमल और कनन ठाकुर बने विजेता

Accuracy Championship: कमल और कनन ठाकुर बने विजेता

- Advertisement -

गफूर खान/बिलिंग। Indian Open Paragliding Accuracy Championship में कमल कुमार उर्फ गोली विजेता रहे हैं। उन्होंने 6000 में से 2210 अंक प्राप्त कर यह खिताब अपने नाम किया है। दूसरे स्थान पर मंजीत रहे जिन्होंने 6000 में से 2840 अंक हासिल किए। प्रतियोगिता में पहली बुल्स आई टच करने वाले रंजीत सिंह 3190 अंकों के साथ तीसरे स्थान पर रहे। चमेल ठाकुर 3335 अंकों के साथ चौथे स्थान पर जबकि पन्ना लाल 3360 अंकों के साथ पांचवें स्थान पर रहे। इस प्रतियोगिता में पूरी तरह से भारतीय पायलट्स का दबदबा रहा।

  • manjeet-and-ranjeetमंजीत दूसरे व बुल्स आई टच करने वाले रंजीत तीसरे स्थान पर रहे
  • प्रतियोगिता में पूरी तरह से भारतीय पायलट्स का दबदबा रहा

पहले दिन से ही कमल कुमार ने बढ़त बना रखी थी, लेकिन आज पहले राउंड में उन्हें पम्पिंग करनी पड़ी, जिसके चलते उन्हें अधिकतम यानि एक हजार अंक दिए गए। उसके बाद दूसरे राउंड में कमल कुमार ने अपनी दक्षता दिखाते हुए 100 अंक हासिल किए और देश में पहली बार हो रही चैंपियनशिप अपने नाम की। दो दिन से दूसरे स्थान पर चल रहे पन्ना लाल आज दोनों बार लक्ष्य से भटक गए और नतीजतन पांचवें स्थान पर रहे।

रंजीत सिंह का बुल्स आई टच करना उन्हें तीसरे स्थान पर पहुंचा गया। पहले दिन के पहले राउंड में बढ़त बनाने वाले मंजीत आज दूसरे राउंड में 200 का स्कोर कर सके और उन्होंने रनरअप का खिताब अपने नाम किया। चमेल ठाकुर ने भी सर्कल के अंदर लैंड करने का क्रम जारी रखा और चौथा स्थान हासिल किया।

billing1महिला वर्ग में भी भारतीयों का दबदबा

एक्यूरेसी चैंपियनशिप में महिला पायलट्स में भी भारतीयों का दबदबा रहा। कुल 9 पायलट्स में से कोई भी विदेशी महिला पायलट सर्किल में लैंड ही नहीं कर सकी। इसमें कनन ठाकुर ने कुल 6000 में से 3815 अंक हासिल किए और पहला स्थान हासिल किया। रूपा कार्की 5075 अंकों के साथ दूसरे स्थान पर रहीं। स्थानीय पायलट अदिति ठाकुर ने 5630 अंकों के साथ तीसरा स्थान हासिल किया।

शेर सिंह ने भी टच की बुल्स आई

प्रतियोगिता के अंतिम दिन रंजीत के बाद अंतिम राउंड में शेर सिंह ने भी बुल्स आई टच करके दर्शकों में जोश भर दिया। मनाली के रहने वाले शेर सिंह पिछले करीब छह साल से पैराग्लाइडिंग कर रहे हैं।

Landing Site के बाद Take Off Site  का भी होगा अधिग्रहण

बिलिंग। शहरी विकास आवास एवं नगर नियोजन मंत्री सुधीर शर्मा ने कहा कि सीएम वीरभद्र सिंह के प्रयासों से लैंडिंग साइट बीड़ का अधिग्रहण किया गया था और अब प्रदेश सरकार बिलिंग की टेक ऑफ़ साइट का भी अधिग्रहण करने का प्रयास करेगी, ताकि इस घाटी में इस खेल को सुरक्षित रखा जा सके और सुविधाओं का विकास किया जा सके। यह शब्द शहरी विकास मंत्री और बीपीए अध्यक्ष सुधीर शर्मा ने इंडियन ओपन एक्यूरेसी चैंपियनशिप के समापन समारोह पर बतौर मुख्यातिथि कहे।

  • pic1सुधीर ने नवाजे एक्यूरेसी पैराग्लाइडिंग के विजेता
  • बोले, प्रदेश में साहसिक खेलों को दिया जा रहा बढ़ावा
  • सुधीर ने कहा कि टेक ऑफ़ साइट के साथ लगती निजी भूमि का भी अधिग्रहण किया जाएगा ताकि उसे खेल के हिसाब से विकसित किया जा सके। उन्होंने कहा कि अंतरराष्ट्रीय स्तर के आयोजनों से जहां बीड़ बिलिंग को दुनिया में पहचान मिली है, वहीं पैराग्लाइडिंग से स्थानीय युवाओं को रोजगार का साधन भी मिला है। सुधीर ने कहा कि स्थानीय लोग भी इस खेल के विकास में योगदान दें और बीपीए और प्रदेश सरकार के प्रयासों को सफल बनाएं।
  • सुधीर शर्मा ने  आज एक्यूरेसी पैराग्लाइडिंग के विजेता व उपविजेताओं को सम्मानित किया। इस अवसर पर उन्होंने कहा कि कहा कि प्रदेश सरकार राज्य में साहसिक खेलों को बढ़ावा देने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है तथा इन खेलों से जुड़े खिलाड़ियों को प्रोत्साहित किया जा रहा है।
  • उन्होंने कहा कि विभिन्न क्षेत्रों की नामी-गिरामी हस्तियों को खेल से जोड़ा जा रहा है, ताकि बड़ी संख्या में लोगों का रूझान साहसिक खेलों की ओर बढ़े।

pic2विशेष तौर पर युवाओं को प्रेरित करने और इन खेलों से जोड़ने का प्रयास किया जा रहा है। सुधीर शर्मा ने कहा कि बीड़ बिलिंग में गत वर्ष पैराग्लाइडिंग विश्व कप के सफल आयोजन से यह क्षेत्र वैश्विक पर्यटन मानचित्र पर उभर कर सामने आया है। साहसिक खेलों के लिए बीड़ बिलिंग पंसदीदा स्थल बन गया है। वर्तमान में एक्यूरेसी प्रतियोगिता के सफल समापन से इसकी प्रसिद्धि में और इजाफा होगा, जिससे पर्यटन व्यवसाय से जुड़े प्रत्येक व्यक्ति को प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर लाभ मिलेगा। इस प्रकार की प्रतियोगिताएं विश्व समुदाय को राज्य में पर्यटन क्षेत्र में निवेश के लिए आकर्षित करने में सहायक होती हैं।

शर्मा ने बिलिंग पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन के प्रयासों की सराहना करते हुए कहा कि एसोसिएशन के लागों को खेल के प्रति और अधिक जागरूक करने का प्रयास प्रशंसनीय हैं, इससे ज्यादा से ज्यादा लोगों का रूझान इस खेल के प्रति बढ़ेगा और रोजगार के भी अधिक अवसर सृजित होंगे। सुधीर शर्मा ने बिलिंग पैराग्लाइडिंग एसोसिएशन की ओर से बैजनाथ की 15 वर्षीय अदिति, जो प्रतियोगिता में सबसे कम उम्र की पायलट थीं, को 11 हजार रुपए प्रदान किए।

 

https://youtu.be/uRTE-x5jnxg

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है