×

कंगना ने किया तीरथ सिंह रावत का बचाव, बोलीं-इतनी कटी-फटी जीन पहनो की भिखारी ना लगें

लड़कियों के कटी-फीट जींस पहनने को लेकर एक भी शब्द नहीं बोली कंगना

कंगना ने किया तीरथ सिंह रावत का बचाव, बोलीं-इतनी कटी-फटी जीन पहनो की भिखारी ना लगें

- Advertisement -

नई दिल्ली। उत्तराखंड के सीएम तीरथ सिंह रावत (Tirath Singh Rawat) आज ट्विटर पर ट्रेंड कर रहे हैं। वजह है उनका कटी-फटी जींस यानी रिप्ड जींस (Ripped Jeans) को लेकर दिया गया बयान। इस बीच अभिनेत्री कंगना रनौत (Kangana Ranaut) ने भी एक ट्विट किया है, जिसमें वो सीधे तौर पर उत्तराखंड के सीएम त्रिवेंद्र सिंह रावत (Uttarakhand CM) का बचाव करती हुई नजर आ रही हैं। यही नहीं, कटी-फटी जींस पर पक्ष या विपक्ष पर बात कहने की बजाय कंगना मुद्दे को कहीं और ही खींचती नजर आईं। हैरानी की बात यह है कि नारीवाद की बात करने वाली कंगना रनौत ने सीएम के बयान और लड़कियों के कटी-फीट जींस पहनने को लेकर एक भी शब्द नहीं कहा।


यह भी पढ़ें: कटी-फटी जींस के बाद CM तीरथ सिंह रावत ने अब लड़कियों के शॉर्ट्स पर उठाए सवाल

यह भी पढ़ें:  फटी हुई जींस पहनने वाली महिलाएं क्या संस्कृति फैलाती होंगी : सीएम तीरथ सिंह रावत

#RippedJeansTwitter ट्विटर ट्रेंड के बीच कंगना रनौत ने भी एक ट्विट किया। इसमें कंगना रनौत लिखती हैं कि रिप्ड जींस पहनते वक्त ऐसा न हो कि आप भिखारी लगने लग जाएं। कंगना रनौत ने आगे लिखा कि यदि आप रिप्ड जींस पहनना चाहते हैं तो मौसम के हिसाब से कूलनेस कॉशियन्ट (Coolness quotient) को जरूर ध्यान में रखिए जैसा इन तस्वीरों में नजर आ रहा है, ताकि ये आपका स्टाइल लगे ना कि ये आपकी भिखारियों (Beggars) वाली हालत को दर्शाए, जैसे इस महीने घरवालों से पैसे ना मिले हों, इन दिनों ज्यादातर युवा (Youth) लड़के ऐसा ही करते दिख रहे हैं। अब ऐसे में सवाल उठना तो लाजिमी है जब ट्विटर पर सारी बहस ही लड़कियों के कटी-फटी जींस पहनने को लेकर चल रही है तो इसमें बीच में लड़कों की बात कहां से आ गई।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है