×

Strike खत्म : Employees Union ने प्रबंधन के आगे टेके घुटने

Strike खत्म : Employees Union ने प्रबंधन के आगे टेके घुटने

- Advertisement -

धर्मशाला। कांगड़ा केंद्रीय सहकारी बैंक (केसीसी) की कर्मचारी यूनियन नर्म पड़ गई है और इसके साथ ही बैंक प्रबंधन और निदेशक मंडल के बीच चल रहा गतिरोध भी गुरुवार को समाप्त हो गया है। अपनी मांगों को लेकर कर्मचारी यूनियन ने दो दिन सत्याग्रह आंदोलन के नाम से सांकेतिक भूख हड़ताल भी की थी।


  • यूनियन ने माफी मांग बैंक के काम को बताया सर्वोपरि
  • KCCB चेयरमैन एवं MD के साथ हुई वार्ता सफल

मंगलवार और बुधवार को यूनियन पदाधिकारी इस सत्याग्रह आंदोलन के तहत भूख हड़ताल पर रहे। बुधवार को ही केसीसी चेयरमैन जगदीश सपेहिया ने भी अपना रुख स्पष्ट कर दिया था और यह कहा था कि कर्मचारियों की सभी जायज मांगों को मान लिया गया है। जो बैंक कर्मी बोनस के पात्र हैं उन्हें बोनस दिया जा चुका है और अब यूनियन जो बोनस की मांग कर रही है, वह बोनस नहीं बल्कि एक्सग्रेसिया है। एक्सग्रेसिया देना या न देना पूरी तरह से बैंक प्रबंधन का निर्णय है और बेहतर कार्य करने वाले कर्मचारियों को यह दिया भी जा चुका है। बुधवार देर रात को कर्मचारी यूनियन और बैंक प्रबंधन की बैठक भी हुई जिसमें कर्मचारी यूनियन ने हड़ताल या अवकाश पर जाने की अपनी पूर्व घोषणा को वापस ले लिया है।

प्रेस को जारी एक बयान में कर्मचारी यूनियन के पदाधिकारियों ने भी वार्ता के लिए निदेशक मंडल और बैंक प्रबंधन का आभार जताया है। यूनियन ने अपने किसी भी कथन से बैंक प्रबंधन और निदेशक मंडल को पहुंची ठेस के लिए खेद व्यक्त करते हुए, उनसे माफ़ी मांगी है। यूनियन ने बैंक के कामकाज में निदेशक मंडल और एमडी को ही सर्वोपरि माना है। यूनियन ने यह भी माना है कि पंजीयक सहकारी सभाएं हिमाचल प्रदेश के निर्देशों एवं स्वीकृति के अनुसार, निदेशक मंडल बैंक के कार्यकलाप के लिए किसी भी तरह के नियम बनाने में सक्षम है। केसीसी कर्मचारी यूनियन ने उनकी विभिन्न मांगों को मानने के लिए बैंक चेयरमैन जगदीश सपेहिया, बैंक की एमडी राखिल काहलों,जीएम सतवीर मिन्हास एवं अशोक पूरी का आभार भी जताया है। यूनियन की ओर से प्रधान शरत रल्हन, महासचिव नवनीत शर्मा, उपप्रधान जोगिंद्र सिंह और संयुक्त सचिव राहुल नेगी ने भविष्य में बैंक एवं कर्मचारी हित में मिलकर कार्य करने की बात भी कही है। वहीं इस बारे में बैंक की एमडी राखिल काहलों का कहना है कि यूनियन पदाधिकारियों से वार्ता सफल रही है। कुछ औपचारिकताएं शेष हैं जो कि चेयरमैन जगदीश सपेहिया के आने पर ही पूरी होंगी। आज शाम तक इस बारे में पूरी जानकारी दी जा सकती है कि यूनियन की किन किन मांगों को माना गया है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है