Covid-19 Update

2,18,000
मामले (हिमाचल)
2,12,572
मरीज ठीक हुए
3,646
मौत
33,617,100
मामले (भारत)
231,605,504
मामले (दुनिया)

हिमाचल: बुजुर्ग दंपति के लिए मसीहा बने कांगड़ा डीसी, अब बनेगा पक्का आशियाना

सीएम आवास योजना के तहत 1.5 लाख रुपए की उपलब्ध कराई सहायता राशि

हिमाचल: बुजुर्ग दंपति के लिए मसीहा बने कांगड़ा डीसी, अब बनेगा पक्का आशियाना

- Advertisement -

ज्वालामुखी। हिमाचल (Himachal) के कांगड़ा डीसी डॉ निपुण जिंदल (Kangra DC Dr. Nipun Jindal) एक बुजुर्ग दंपति के फरिश्ता बनकर सामने आए। सालों से झोपड़ी में रह रहे थे। पक्के मकान की आस छोड़ चुके थे। डीसी डा. निपुण जिंदल के ध्यान में यह मामला आया। अंब पठियार पंचायत के बुजुर्ग दंपती मिलाप चंद पत्नी और विमला देवी को सरकार की आवास योजना का लाभ नहीं मिला है। जिसके बाद उन्होंने इस मामले की जानकारी जुटाई।

यह भी पढ़ें: जीएनए यूनिवर्सिटी की तरफ से कांगड़ा ऑफिस में काउंसलिंग 21 व 22 अगस्त को

सीएम आवास योजना के तहत दिलाई मदद

छानबीन करने पर मालूम हुआ कि पीएम आवास योजना में इस परिवार को डाला गया है, लेकिन किन्हीं कारणों से अब तक उनका पक्का घर नहीं बन पाया है। वहीं, कांगड़ा डीसी ने कच्चे घर की हालत को देखते हुए बुजुर्ग दंपति को सीएम आवास योजना (CM Awas Yojana) के तहत लाभ दिया। उन्हें डेढ लाख रुपए की राशी पक्का मकान बनाने के लिए दी गई।

मंदिर के बाहर बेचते हैं बांस की टोकरी

बता दें कि मिलाप चंद और उनकी पत्नी बिमला देवी बांस की टोकरी बनाकर अपना भरण पोषण करते हैं। उनके घर में सिर्फ बुजुर्ग पति-पत्नी रहते हैं। लेकिन मंदिर बंद होने की बजह से टोकरी भी नहीं बिक रही है। घर कच्चा है। बारिश में डर लगा रहता है कि कई गिर गया तो सिर से छत भी छिन जाएगी। इसी डर से घर के बाहर विस्तर लगाकर भी सोना पड़ता है।

यह भी पढ़ें: हिमाचल में खुले रोजगार के द्वार, कैंपस इंटरव्यू से होगी सैंकड़ों पदों पर भर्ती

‘डीसी साहब हमारे लिए फरिश्ते से कम नहीं’

कई साल पहले स्थानीय युवक सुनील ने उनकी मदद की। उनकी समस्या को उसने अफसरों व स्थानीय पंचों के ध्यान में लाया, लेकिन आज दिन तक कोई मदद नहीं हुई। वे बुढ़ापे में चलने में भी असमर्थ हैं। कांगड़ा डीसी की इस पहले से वे फूले नहीं समा रहे हैं। प्रशासन की तरफ से सहायता राशि मिलने पर बुजुर्ग मिलाप चंद ने कहा कि डीसी कांगड़ा डा. निपुण जिंदल उनके लिए किसी मसीहा से कम नहीं है। उनकी बदौलत पक्का घर मिल पाया है। उनका आभार व्यक्त करते हैं। वहीं, इस मामले पर कांगड़ा डीसी का भी बयान आया है। उन्होंने कहा कि मामला संज्ञान आने पर तुरंत उन्हें सीएम आवास योजना के तहत लाभांश राशि पहुंचाई गई।

“अंम्ब पठियार पंचायत के बुजुर्ग दंपति मिलाप चंद का मामला उनके ध्यान में आया था। उन्हें जिला प्रशासन की ओर से पक्के घर के लिए मुख्यमंत्री आवास योजना के तहत डेढ लाख की राशी स्वीकृत कर दी गई है। जल्द ही इस परिवार का पक्का घर बन जाएगा। जिला प्रशासन की ओर से जो भी मदद होगी। वह बुजुर्ग परिवार की जाएगी।” – डॉ निपुण जिंदल, कांगड़ा डीसी

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है