×

Rahul Gandhi अहंकारी नामदार, सबसे पहले रख दी अपनी बाल्टी

Rahul Gandhi अहंकारी नामदार, सबसे पहले रख दी अपनी बाल्टी

- Advertisement -

बेंगलुरु। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी पीएम बनेंगे या नहीं ? ये एक ऐसा सवाल है जिसे लेकर राहुल गांधी एक बार फिर सुर्खियों में आ गए हैं और कर्नाटक चुनाव प्रचार में जब बात राहुल गांधी की हो तो पीएम मोदी का कांग्रेस और राहुल पर हमला लाजमी है। पीएम नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कर्नाटक के बंगारपेट में चुनावी रैली के दौरान राहुल गांधी के 2019 में प्रधानमंत्री बनने वाले बयान पर निशाना साधते हुए कहा कि नामदार (एक परिवार विशेष के वारिस) राहुल ने कांग्रेस के अनुभवी नेताओं और गठबंधन वाले दलों को दरकिनार करके खुद को प्रधानमंत्री घोषित कर दिया। यह नामदार पार्टी का अहंकार नहीं थी तो क्या है? गौर रहे कि, राहुल ने मंगलवार को बेंगलुरु में एक सवाल का जवाब देते हुए कहा था कि अगर कांग्रेस 2019 में सबसे बड़ी पार्टी बनी तो प्रधानमंत्री क्यों नहीं बनूंगा।


पीएम बोले – गांव में कोई दबंग होता है, लोकतंत्र को मानता नहीं

पीएम मोदी ने राहुल गांधी पर तंज कसते हुए कहा कि नरेंद्र मोदी ने कहा, “गांव में पानी का टैंकर आने से पहले लोग लाइन से बाल्टी लगा देते हैं। ईमानदार लोग बाल्टी लगाकर अपने काम में लग जाते हैं। 3 बजे टैंकर आता है तो लोग बारी-बारी पानी भरते हैं। लेकिन गांव में कोई दबंग होता है। लोकतंत्र को मानता नहीं है। वह ठीक तीन बजे पहुंचता है, छाती तानता निकलता है, अपनी बाल्टी पहले रख देता है और टैंकर का पानी खुद ले लेता है। कर्नाटक में और हिंदुस्तान की राजनीति में कल ऐसा ही हुआ। बाकी की कतार का, गठबंधन के दलों का, 40 साल से इंतजार कर रहे नेताओं का जो होगा सो होगा। उसने कतार में अपनी बाल्टी पहले रख दी। कहा- मैं प्रधानमंत्री बनूंगा। यह अहंकारी नामदार का खुद को प्रधानमंत्री घोषित करना ये कांग्रेस की अपरिपक्व लोकशाही को व्यक्त करता है कि नहीं। इसके साथ ही पीएम मोदी ने कांग्रेस को 6 बीमारियों से ग्रस्त बताया।

कांग्रेस को बरबाद कर रहे 6 C

  • कांग्रेस कल्चर (परिवारवाद)
  • कम्युनिलिज्म (साम्प्रदायिकता)
  • कास्टिज्म (जातिवाद)
  • क्राइम (अपराध)
  • करप्शन (भ्रष्टाचार)
  • कॉन्ट्रैक्ट (ठेकेदारी)

इसके साथ ही पीएम मोदी ने कांग्रेस पर निशाना साधते हुए कहा, जब केंद्र में मनमोहन सिंह की सरकार थी तब उनका रिमोट कंट्रोल मैडमजी के हाथ में था। लेकिन मोदी का रिमोट कंट्रोल जनता के हाथ में है, मेरा आलाकमान आप हैं। गौर रहे कि कर्नाटक चुनाव में जीत हासिल करने के लिए बीजेपी और कांग्रेस एड़ी-चोटी का जोर लगाए हुए हैं। यहां पर 12 मई को होने वाले चुनाव के लिए 10 मई को चुनाव प्रचार थम जाएगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है