Covid-19 Update

58,879
मामले (हिमाचल)
57,406
मरीज ठीक हुए
983
मौत
11,173,761
मामले (भारत)
116,220,912
मामले (दुनिया)

Kathua Gang Rape : सभी आरोपियों को Charge Sheet की Copy देने के कहा, अगली सुनवाई 28 को

Kathua Gang Rape : सभी आरोपियों को Charge Sheet की Copy देने के कहा, अगली सुनवाई 28 को

- Advertisement -

Kathua Gang Rape : जम्मू। Kathua Gang Rape and Murder Case में आज सीजेएम कोर्ट में पहली सुनवाई हुई। अदालत ने इस मामले में सभी 8 आरोपियों को Charge Sheet की Copy मुहैया कराने को कहा। आरोपियों के वकीलों ने जज से शिकायत की कि उन्हें इस मामले की Charge Sheet की Copy नहीं मिली है। जज ने इसके बाद आरोपियों के वकीलो को कॉपी देने की हिदायत दी। सुनवाई के दौरान सभी आरोपियों ने पीड़ित पक्ष के दावों को खारिज करते हुए कहा कि Narco test के बाद सब कुछ स्पष्ट हो जाएगा। हम Narco test के लिए तैयार हैं। अब इस मामले में 28 अप्रैल को सुनवाई होगी। आरोपियों में एक नाबालिग भी शामिल है जिसकी पेशी 24 अप्रैल को तय हुई है। इस मामले में आरोपी सांझी राम, दीपक खजूरिया, सुरिंद्र वर्मा, विशाल जंगोत्रा, तिलक राज, आनंद दत्ता और परवेश कुमार शामिल हैं। इस मामले में मुख्य आरोपी सांझी राम ने अपने ऊपर लगे आरोपों से इनकार करते हुए कहा कि ऊपर वाला सबकुछ देख रहा है। ऐसा माना जा रहा है कि Gang Rape के जरिए सांझी राम बकरवाल समुदाय को गांव छोड़ने के लिए धमकाना चाहता था।

Kathua Gang Rapeपरिवार की सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करूंगी : Deepika Singh

वहीं, पीड़ित पक्ष की वकील Deepika Singh Rajawat ने आशंका जाहिर की है कि इस केस की वकील बनने की वजह से उनकी जान को खतरा है। Deepika Singh Rajawat ने कहा, ”मेरा भी रेप हो सकता है या हत्या करवाई जा सकती है। शायद मुझे कोर्ट में वकालत न करने दी जाए। मैं नहीं जानती कि अब मैं यहां कैसे रहूंगी। हिंदू विरोधी बताकर मेरा बहिष्कार किया गया है।” उन्होंने आगे कहा, ”केस ट्रांस्फर करने और अपनी और परिवार की सुरक्षा के लिए सुप्रीम कोर्ट में याचिका दाखिल करूंगी।”

Kathua Gang Rape and Murder Case हिंदू-मुस्लिम विवाद में फंसने की वजह से जम्मू-कश्मीर की महबूबा सरकार ने सिख समुदाय के दो वकील को सरकारी वकील बनाया है। वह कोर्ट में पुलिस का पक्ष रखेंगे। गौर हो कि जम्मू-कश्मीर के Kathua जिले के रासना जंगल में जनवरी में घोड़ों को चराने गई बकरवाल समुदाय की आठ साल की लड़की लापता हो गई थी। उसका शव एक हफ्ते बाद बरामद किया गया। जांच में खुलासा हुआ है कि उसे एक मंदिर के अंदर बंधक बना कर रखा गया था और उसके साथ रेप से पहले नशीली दवाएं दी गई और उसकी हत्या कर दी गई।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है