Covid-19 Update

59,014
मामले (हिमाचल)
57,428
मरीज ठीक हुए
984
मौत
11,190,651
मामले (भारत)
116,428,617
मामले (दुनिया)

Kathua Rape Case: मेनका @ बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों के लिए मौत की सजा का कानून बनेगा

Kathua Rape Case: मेनका @ बच्चियों से दुष्कर्म करने वालों के लिए मौत की सजा का कानून बनेगा

- Advertisement -

नई दिल्ली। जम्मू एवं कश्मीर के Kathua Rape Case के आरोपियों को कठोर सजा की मांग को लेकर हो रहे प्रदर्शन के बीच  केंद्रीय महिला एवं बाल विकास मंत्री Maneka Gandhi ने कहा कि सरकार पॉक्सो ऐक्ट में संशोधन करने के लिए कैबिनेट की बैठक में  प्रस्‍ताव लाएगी। इस संशोधन के मुताबिक, 12 साल से कम उम्र की बच्ची से रेप के मामले में मौत की सज़ा का प्रावधान रखा जाएगा। Maneka Gandhi ने एक वीडियो संदेश में कहा, “मैं कठुआ में एक बच्ची से दुष्कर्म और हाल ही में बच्चों के साथ हुए दुष्कर्म के मामलों से बहुत व्यथित हूं।”उन्होंने कहा, “मैं और महिला एवं बाल विकास मंत्रालय यौन अपराधों से बच्चों की सुरक्षा (पॉस्को) एक्ट में संशोधन का प्रस्ताव रखेंगे, जिसके तहत 12 वर्ष से कम उम्र के बच्चों के साथ दुष्कर्म करने वालों के लिए मृत्युदंड की सजा का प्रावधान हो।”

केंद्रीय स्वास्थ्य राज्यमंत्री अनुप्रिया पटेल ने Maneka Gandhi  की मांग का समर्थन करते हुए कहा कि जो लोग इस तरह से बच्चों के साथ बलात्कार जैसे घृणित अपराध करते हैं, उनकी तुलना सिर्फ किसी हैवान से ही की जा सकती है। उन्होंने कहा कि ऐसे लोगों के मन में कानून का डर तभी बैठेगा जब इसके लिए कड़ी से कड़ी सजा का प्रावधान होगा, जिसमें फांसी शामिल है। गौरतलब है कि जनवरी में कठुआ के रसाना गांव में बकरवाल समुदाय की आठ वर्षीय बच्ची को अगवा कर उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म और हत्या में मास्टरमाइंड सांझी राम सहित आठ लोगों के खिलाफ मामला दर्ज किया गया है। जांच से पता चला है कि बच्ची को मंदिर में बंधक बनाकर रखा गया और उसे आठ दिनों तक भूखा रखकर नशीली दवाएं दी गई और उसके साथ सामूहिक दुष्कर्म किया गया और बाद में बच्ची की नृशंस हत्या कर दी गई।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है