Expand

राजनीति करनी है तो छोड़ दो नौकरी

राजनीति करनी है तो छोड़ दो नौकरी

- Advertisement -

धर्मशाला। कुछ कर्मचारी अपने निजी स्वार्थों के लिए राजनीति कर रहे हैं, अगर उन्हें राजनीति ही करनी है तो वह नौकरी छोड़ दें और उसके बाद जी भर राजनीति करें। यह शब्द केसीसी बैंक के चेयरमैन जगदीश सिपहिया ने पत्रकार वार्ता के दौरान कहे। सिपहिया ने कहा कि नियमों के तहत जिन कर्मचारियों को बोनस दिया जाना है, उन्हें बोनस दिया जा चुका है। लेकिन यूनियन के नाम पर कुछ कर्मचारी बोनस न मिलने की बात कहकर भ्रम फैला रहे हैं। वह यह नहीं बता रहे कि वह बोनस नहीं अनुग्रह राशि की मांग कर रहे हैं। यह वो राशि है जिसे देने के लिए बैंक नियमानुसार बाध्य नहीं है। पहले बैंक अपनी तरफ से सभी कर्मचारियों को अनुग्रह राशि देता था लेकिन अब बैंक प्रबंधन ने फैसला लिया है कि अनुग्रह राशि उन्हीं कर्मचारियों को दी जाएगी जो बैंक के तय मानकों को पूरा करते हैं। सिपहिया का कहना है कि बैंक प्रबंधन ने एक कमेटी गठित करके यह फैसला बैंक की कार्यप्रणाली को सुधारने के लिए लिया था। अब बैंक के कुछ कर्मचारिओं को यह रास नहीं आ रहा है क्योंकि यह सीधे तौर पर कार्यकुशलता से जुड़ा हुआ है। कुछ कर्मचारी अपनी कार्यप्रणाली और कार्यकुशलता को सुधारने की बजाए सिर्फ बयानबाजी करके ही लाभ लेना चाहते हैं तो ऐसा कतई नहीं होगा। सिपहिया ने कहा कि नियमानुसार बोनस उन्हीं कर्मचारियों को दिया जाता है, जिनका मूल वेतन दस हजार रुपये से कम है और ऐसे कर्मियों को बोनस दिया जा चुका है।

  • kccbसिपहिया की बैंक कर्मियों को सलाह
  • कहा, हकदारों को मिल चुका है बोनस
  • मेहनत करने वालों के लिए सब कुछ करेगा बैंक प्रबंधन

सिपहिया ने कहा कि यूनियन का काम संस्थान की बेहतरी के लिए मिलकर काम करना है। लेकिन यहां पर कुछ कर्मचारी बैंक की कार्यप्रणाली पर कीचड़ उछालने में लगे हुए हैं। यह किसी भी सूरत में सहन नहीं किया जाएगा। जिन कर्मचारियों ने इस तरह की आधारहीन बयानबाजी की है उनके खिलाफ क़ानूनी कार्रवाई अमल में लाई जाएगी। सिपहिया ने ऐसे कर्मचारियों को इस तरह की बयानबाजी नहीं करने की चेतावनी भी दी है साथ ही उन्होने कहा कि जो कर्मचारी आये दिन धरना- प्रदर्शन करने की बात करते रहते हैं, वे भी बिना किसी ठोस कारण के धरना प्रदर्शन करके दिखाएं। तथ्यहीन आधार पर बैंक की छवि को नुकसान पहुंचाने वालों से बैंक प्रबंधन भी सख्ती से निपटेगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है