Covid-19 Update

2,04,887
मामले (हिमाचल)
2,00,481
मरीज ठीक हुए
3,495
मौत
31,329,005
मामले (भारत)
193,701,849
मामले (दुनिया)
×

हाईकोर्ट से मिली हमीरपुर के खोखाधारकों को 15 दिन की  राहत

हाईकोर्ट से मिली हमीरपुर के खोखाधारकों को 15 दिन की  राहत

- Advertisement -

हमीरपुर।  बस स्टैंड के बाहर सड़क किनारे बने खोखों को हटाने के लिए फ़िलहाल 15 दिन के लिए अंतरिम रोक लग गई है। जिला प्रशासन एवं लोकनिर्माण विभाग के दख़ल के बाद नगर परिषद हमीरपुर से दुकानें खाली करने के नोटिस के बाद खोखा धारकों ने  हाईकोर्ट का दरवाजा खटखटाया। कोर्ट ने खोखाधारकों को अब पंद्रह दिन की और मोहल्लत प्रदान की है।इसी तरह कुछ दुकानदारों ने डिस्ट्रिक कोर्ट हमीरपुर से स्टे ले लिया है। इसके बाद खोखाधारकों ने राहत की सांस ली है।

 


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group No 10… 

हाईकोर्ट से महज दो दुकानदारों वीरेंद्र मल्होत्रा और हुकम चंद को ही अस्थायी तौर पर राहत मिली है। जबकि, बस स्टैंड के बाहर कुल 58 खोखे हैं। खोखाधारकों ने नगर परिषद को इस मामले में पार्टी बनाया है। चूंकि कई साल से खोखाधारकों से मासिक किराया नगर परिषद ही वसूल रही है। जिसके चलते कोर्ट  ने नगर परिषद हमीरपुर को कोर्ट में अपना पक्ष रखने के निर्देश दिए हैं। हालांकि, बताया जा रहा है कि कुछ दुकानदारों ने डिस्ट्रिक कोर्ट में भी अर्जी दी है। जिसके चलते अब प्रशासन की ओर से खोखों को हटाने की मुहिम कुछ समय के लिए ठंडे बस्ते में पड़ गई है।

 

प्रशासन ने बस स्टैंड के बाहर सड़क किनारे बने खोखों को हटाने और दुकानदारों को बाल स्कूल परिसर में बनी पक्की दुकानों में शिफ्ट करने के निर्देश दिए थे। जिसके बाद नगर परिषद, राजस्व और लोनिवि विभाग ने भूमि की निशानदेही कर खोखाधारकों को नोटिस भेजे थे। प्रशासन बस स्टैंड के बाहर मुख्य मार्ग के विस्तारीकरण और फुटपाथ बनाने जा रहा है।इस बारे में वीरेंद्र मल्होत्रा, अध्यक्ष जिला उद्यमी संघ हमीरपुर ने कहा कि नगर परिषद ने करीब 40 साल पूर्व शहर में रेहड़ी-फड़ी लगाने वाले दुकानदारों से अग्रिम राशि लेकर बस स्टैंड के बाहर टीन के खोखे बनाकर दिए थे। यहां पर करीब 56 खोखे हैं। सभी लोग अपने परिवार का पालन पोषण इन खोखों से होने वाली आमदनी से कर रहे हैं। लेकिन, कुछ समय पहले नगर परिषद ने पंद्रह दिन के भीतर इन खोखों को खाली करने के निर्देश दिए हैं, जोकि जिला प्रशासन की तानाशाही को दर्शाता है। हाईकोर्ट  से पंद्रह दिनों की मोहलत मिली है। सभी खोखाधारक प्रशासन से आग्रह करते हैं कि उन्हें न उजाड़ा जाए।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page…  

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है