Expand

लोहड़ी पर ऐसे करेंगे पूजन तो बरसेगी कृपा, जानिए क्या है शुभ मुहूर्त

लोहड़ी पर ऐसे करेंगे पूजन तो बरसेगी कृपा, जानिए क्या है शुभ मुहूर्त

- Advertisement -

देशभर में लोहड़ी का त्योहार आज धूमधाम से मनाया जा रहा है। खासकर उत्तर भारत में इसका महत्व बहुत ज्यादा रहता है। लोहड़ी मौसम परिवर्तन और आपसी सौहार्द का परिचायक है। लोहड़ी को पौष माह का अंत और माघ के महीने की शुरुआत माना जाता है। लोहड़ी का त्योहार फसल की बुआई और उसकी कटाई से जुड़ा हुआ है। किसान अपने नए वित्तीय वर्ष की शुरुआत के रूप में लोहड़ी मनाते हैं। लोहड़ी की रात को साल की सबसे लंबी रात माना जाता है। लोहड़ी के दिन अग्नि और महादेवी के पूजन से दुर्भाग्य दूर होता है, पारिवारिक क्लेश समाप्त होता है तथा सौभाग्य प्राप्त होता है।

अग्नि पूजन का शुभ समय :

इस बार 13 जनवरी शाम 6:00 बजे लकड़ियां, समिधा, रेवड़ियां, तिल आदि अग्नि में प्रज्वलित कर अग्नि पूजन के रूप में लोहड़ी का समय रात 11:42 मिनट तक होगा।

इसमें शाम के समय लोहड़ी जलाने का अर्थ है कि अगले दिन सूर्य का मकर राशि में प्रवेश पर उसका स्वागत करना। सामूहिक रूप से आग जलाकर सर्दी भगाना और मूंगफली, तिल, गजक, रेवड़ी खाकर शरीर को सर्दी के मौसम में समर्थ बनाना ही लोहड़ी का उद्देश्य है।

लोहड़ी पर ऐसे करें विशेष पूजन :

घर की पश्चिम दिशा में पश्चिममुखी होकर काले कपड़े पर महादेवी का चित्र स्थापित कर पूजन करें।

सरसों के तेल का दीपक जलाएं, लोहबान से धूप करें, सिंदूर चढ़ाएं, बेलपत्र चढ़ाएं, रेवड़ियों का भोग लगाएं।

सूखे नारियल के गोले में कपूर डालकर अग्नि प्रज्वलित कर रेवड़ियां, मूंगफली व मक्का अग्नि में डालें। इसके बाद सात बार अग्नि की परिक्रमा करें।

लोहड़ी पूजा के साथ इस मंत्र का जाप करें: पूजन मंत्र: ॐ सती शाम्भवी शिवप्रिये स्वाहा॥

इस दिन तिल से हवन करना, तिल ग्रहण करना और दान करना हर तरह से शुभता लेकर आता है।

यह त्योहार नवविवाहित जोड़े और परिवार में जन्मे पहले बच्चे के लिए महत्वपूर्ण है। इस दिन नई दुल्हन को ससुराल की तरफ से तोहफे दिए जाते हैं, वहीं नवजात शिशु को उपहार देकर परिवार में उसका स्वागत किया जाता है। दुर्भाग्य दूर करने के लिए महादेवी पर चढ़ी रेवड़ियां गरीब कन्याओं में बाटें। पारिवारिक क्लेश से मुक्ति पाने के लिए उड़द और चावल की काली गाय को खिलाएं। सौभाग्य की प्राप्ति के लिए गुड़-तिल गरीबों को बांटे। आर्थिक समस्या के लिए इस दिन लाल कपड़े में गेहूं बांधकर किसी ब्राह्मण को दान करें।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है