लिवर है तो लाइफ है : जानें कैसे रखें इसका ख्याल

शरीर को स्वस्थ बनाए रखने के लिए लिवर का ध्यान रखना जरूरी

लिवर है तो लाइफ है : जानें कैसे रखें इसका ख्याल

- Advertisement -

लिवर हमारे शरीर का पावरहाउस कहलाता है। यह शरीर के लिए ढेर सारे काम करता है। यहीं एक ऐसा अंग है जो हमारे शरीर को सुचारू रूप से संचालित करने में मदद करता है। यह हमारे लिए कई तरह से काम करता है इसलिए इसके संक्रमित होने का खतरा भी ज्यादा रहता है। कई बार अपने काम के दौरान लीवर कई बेहद जहरीले पर्दाथों के संपर्क में आ जाता है। जिसके चलते उसकी सेहत और कार्यक्षमता पर असर पड़ना लाजमी है। ऐसे में अगर हमें अपने शरीर को स्वस्थ बनाए रखना है तो लिवर का ध्यान रखना जरूरी है। इसके लिए हम रोजमर्रा जो भोजन खाते हैं उसकी तरफ नजर दौड़ाएं और जानें कि ऐसा क्या है जिसे खाकर हम अपने इस पावर हाउस को वर्किंग मोड पर रख सकते हैं

यह भी पढ़ें : शरीर में मौजूद जहरीले पदार्थों को बाहर निकालने के लिए पिएं इसका जूस

ग्रीन टीः एक कप ग्रीन टी लिवर के लिए भी बहुत फ़ायदेमंद होती है। जापान में हुआ एक अध्ययन बताता है कि पूरे दिन में 5 से 8 कप ग्रीन टी (जैपनीज़ ग्रीन टी) पीने से लिवर सही रहता है। इस अध्ययन में पाया गया कि नॉन अल्कोहलिक फ़ैटी लिवर डिज़ीज़ (शराब का सेवन न करने के बावजूद लिवर में फ़ैट जमा होना) के मरीजों को 12 हफ़्तों तक ग्रीन टी पीने को दी गई। ग्रीन टी के ज़्यादा मात्रा में ऐंटीऑक्सिडेंट ने लिवर एन्ज़ाइम्स के स्तर को सुधारा और लिवर में मौजूद वसा को घटा दिया। इसके अलावा एक और अध्ययन में पाया गया कि जो लोग ग्रीन टी पीते हैं, उनमें लिवर कैंसर होने की संभावना कम हो जाती है।

कॉफ़ीः शोध भी बताते हैं कि कॉफ़ी पीने से लिवर कई बीमारियों से बचा रहता है। यहां तक कि यदि किसी को लिवर में कोई समस्या हो तो भी कॉफ़ी पीने से इसे ठीक करने में मदद मिलती है। यदि किसी के लिवर में हमेशा के लिए परेशानी आ गई हो या कोई पुरानी बीमारी हो तो वह भी ठीक हो जाती है। डाइटीशियन का मानना है कि अगर लिवर की बीमारी हो तो कॉफ़ी पीना फ़ायदेमंद रहता है, लेकिन इसकी मात्रा का भी ध्यान रखना चाहिए। पूरे दिन में तीन कप से ज्यादा कॉफ़ी न पिएं। यह लिवर में ऐंटीऑक्सिडेंट स्तर को बढ़ा देती है। इससे यदि लिवर में सूजन हो तो वह कम हो जाती है।

 

चकोतराः इस फल में बड़ी मात्रा में एंटीऑक्सिडेंट पाया जाता है। यह लिवर को प्राकृतिक रूप से सुरक्षा प्रदान करता। चकोतरा में दो तरह के एंटीऑक्सिडेंट नार्रिनजेन और नारिनजिन पाए जाते हैं। पशुओं पर किए गए अध्ययन से पता चलता है कि दोनों ही लिवर का बचाव करते हैं। चकोतरा पहले तो सूजन कम करता है, फिर कोशिकाओं की रक्षा करता है। अध्ययनों से यह भी पता चला है कि ये एंटीऑक्सिडेंट हेपैटिक फ़ाइब्रॉसिस की वृद्धि को कम कर सकते हैं। यह एक हानिकारक स्थिति है, जिसमें लिवर के अंदर कनेक्टिव टिशू बहुत ज़्यादा मात्रा में बनने लगते हैं। ऐसा आमतौर पर लिवर की पुरानी सूजन के कारण होता है।

अंगूरः ख़ासकर लाल और जामुनी अंगूर में कई तरह के प्लांट कम्पाउंड्स होते हैं। इसमें सबसे ज़्यादा रेज़वेराट्रॉल होता है। इसके अनगिनत फ़ायदे हैं। यह भी ऐंटीऑक्सीडेंट के स्तर को बढ़ाता है और लिवर को मज़बूत करता है। अंगूर को एक तरह से लिवर का दोस्त कह सकते हैं। मौसम आने पर अंगूर ज़रूर खाना चाहिए। कुछ लोग काले अंगूर से परहेज़ करते हैं पर ये भी उतने ही फ़ायदेमंद होते हैं

चुकंदरः चुकंदर के रस नाइट्रेट्स और एंटीऑक्सिडेंट का अच्छा स्रोत हैं। इसे बिटालेंस कहते हैं। यह दिल की उम्र को बढ़ाता है और सूजन को कम करता है। लोगों को लगता है कि चुकंदर खाना और इसका जूस पीना बराबर है। लेकिन ऐसा नहीं है। चुकंदर सलाद के रूप में खाने और इसका जूस पीने में अंतर है। जूस ज़्यादा फ़ायदेमंद होता है। इसका जूस शरीर में मौजूद विषैले पदार्थ को प्राकृतिक रूप से निकाल देता है। इससे लिवर मज़बूत बनता है।

ऑलिव ऑयलः दिल और मेटाबॉलिक रेट के लिए ऑलिव ऑयल बहुत फ़ायदेमंद होता है। साथ ही साथ यह लिवर पर भी सकारात्मक प्रभाव डालता है। नॉन अल्कोहलिक फ़ैटी लिवर की समस्या वाले लोगों को हर दिन 6.5 एमएल यानी एक बड़ा चम्मच ऑलिव ऑयल खाना चाहिए। यह प्रोटीन के स्तर को भी बढ़ाता है। इसको खाने से लिवर में रक्तप्रवाह भी दुरुस्त रहता है।

हिमाचल अभी अभी की मोबाइल एप अपडेट करने के लिए यहां क्लिक करें

 

 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Google+ Join us on Google+ Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है