Covid-19 Update

1,54,664
मामले (हिमाचल)
1,15,610
मरीज ठीक हुए
2219
मौत
24,372,907
मामले (भारत)
162,538,008
मामले (दुनिया)
×

Himachal में बस किराया बढ़ोतरी वापस ले सरकार, पेट्रोल-डीजल पर कम हो वैट

Himachal में बस किराया बढ़ोतरी वापस ले सरकार, पेट्रोल-डीजल पर कम हो वैट

- Advertisement -

शिमला। हिमाचल (Himachal) में बस किराया बढ़ोतरी पर कांग्रेस प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर (Kuldeep Rathore) और शिमला ग्रामीण के विधायक विक्रमादित्य सिंह (Vikramaditya Singh) ने एक बार फिर जयराम सरकार पर निशाना साधा है। कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर ने कहा है कि प्रदेश में जयराम सरकार पूरी तरह संवेदनहीन हो गई है। सरकार के जनविरोधी निर्णयों से साफ है कि उसे लोगों की नहीं केवल अपनी तिजोरी भरने की चिंता है। निजी बस ऑपरेटरों (Private Bus Operators) को टैक्स में राहत देते हुए बस किराया बढ़ोतरी जन हित में वापस ली जानी चाहिए। पेट्रोल-डीजल पर वैट कम कर आम लोगों को भी इसके बढ़ते मूल्यों से राहत दी जानी चाहिए।


यह भी पढ़ें: Jai Ram के घर बस किराया बढ़ोतरी के खिलाफ कल बोला जाएगा हल्ला

राठौर ने प्रदेश में बस किराया बढ़ाने के निर्णय की कड़ी आलोचना करते हुए कहा कि इसके विरुद्ध कांग्रेस (Congress) लोगों के साथ मिलकर आंदोलनरत है। उन्होंने कहा कि अगर प्रदेश में इस आंदोलन के चलते कोई कानून व्यवस्था बिगड़ती है तो इसकी पूरी जिम्मेदारी सरकार की होगी। उन्होंने कहा है कि एचआरटीसी को किसी भी घाटे से उभारने के लिए सरकार इसे करोड़ों की ग्रांट जारी करती है, इसलिए निजी बस ऑपरेटरों को इसके टैक्सों में राहत दी जानी चाहिए।
राठौर ने कहा है कि कोविड-19 (Covid-19) के चलते पहले ही लोग इस समय आर्थिक संकट से गुजर रहे हैं। कोई भी काम धंधा ना चलने से बेरोजगारी की गंभीर समस्या पैदा हो गई है। उनका कहना है कि अच्छा होता अगर सरकार बेरोजगारों के लिए रोजगार की कोई कारगर नीति लेकर आती।


यह भी पढ़ें: Mukesh बोले- सरकार को नहीं जनता की फिक्र, किराया बढ़ाकर किया साबित

कांग्रेस विधायक विक्रमादित्य सिंह ने बस किराया बढ़ोतरी को सीएम जयराम ठाकुर (CM Jai Ram Thakur) से जनहित में वापस लेने की मांग की है। उन्होंने कहा है कि सरकार के किसी भी जनविरोधी निर्णय का कांग्रेस डट कर विरोध करेगी। विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि कोविड 19 के चलते आज देश सहित प्रदेश में लोगों की आर्थिकी पर बहुत बुरा प्रभाब पड़ा है। उद्योग धंधे बंद पड़े हैं। लाखों की संख्या में युवा बेरोजगारी की मार झेल रहे हैं। उन्होंने कहा है कि इस समय लोगों को राहत देने की आवश्यकता है, ना की उन्हें किसी भी प्रकार की महंगाई देने की। उन्होंने कहा है कि सरकार निजी बस ऑपरेटरों को टैक्स में राहत देकर उनके किसी भी घाटे को दूर कर सकती है। उन्होंने कहा है कि डीजल-पेट्रोल पर से भी वैट कम किया जाना चाहिए, जिससे आम लोगों को राहत मिल सके। विक्रमादित्य सिंह ने कहा है कि नगर निगम शिमला (MC Shimla) द्वारा पेयजल के बिलों में भी किसी भी प्रकार की कोई बढ़ोतरी नहीं की जानी चाहिए। उन्होंने कहा है कि बिजली की दरों में की गई बढ़ोतरी भी जायज नहीं है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है