Covid-19 Update

2,27,483
मामले (हिमाचल)
2,22,831
मरीज ठीक हुए
3,835
मौत
34,624,360
मामले (भारत)
265,482,381
मामले (दुनिया)

राठौर बोले: भारी बर्फबारी की जानकारी के बाद भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को भेजना गलत निर्णय

राठौर बोले: भारी बर्फबारी की जानकारी के बाद भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को भेजना गलत निर्णय

- Advertisement -

शिमला। प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष कुलदीप सिंह राठौर (Pradesh Congress President Kuldeep Singh Rathore) ने पोलियो की खुराक पिलाने गई आंगनबाड़ी कार्यकर्ता की बर्फ पर फिसलने से हुई मौत पर संवेदना व्यक्त करते हुए इस मामले में सरकार को दोषी ठहराया है। राठौर ने आरोप लगाया कि सरकार और स्थानीय प्रशासन को इस क्षेत्र में भारी बर्फबारी की जानकारी थी। उसके बाद भी आंगनबाड़ी कार्यकर्ता को अकेले भेजा गया, जोकि सरकार और प्रशासन का निर्णय सरासर गलत था। उन्होंने कहा कि प्रदेश सरकार द्वारा इस महिला के आश्रित को तुरंत सरकारी नौकरी और आर्थिक मदद दी जानी चाहिए।

यह भी पढ़ें: पोलियो ड्रॉप्स पिलाने जा रही Anganwadi Worker बर्फ पर फिसली, गई जान

राठौर ने कहा है कि प्रदेश में 18000 से ऊपर आंगनबाड़ी केंद्र हैं। इनमें 36000 से अधिक कार्यकर्ता और सहायक अपनी सेवाएं ग्रामीण क्षेत्रों में नौनिहलों के स्वास्थ्य की देख रेख के साथ शिक्षा के महत्व का पूरा ज्ञान उन्हें दे रही हैं। दूसरी ओर जब भी कोई गणना या बूथ स्तर के अन्य कोई सामाजिक दायित्व का कार्य होता है तो आंगनबाड़ी कार्यकर्ताओं को इस कार्य मे झोंक दिया जाता है।

उन्होंने कहा है कि गांव में आंगनबाड़ी केंद्रों की सुध प्रदेश सरकार नहीं ले रही है। आंगनबाड़ी कार्यकर्ता जयराम सरकार की उपेक्षा का शिकार बने हुए है। राठौर ने कहा है कि केंद्र सरकार की सहायता से चलाए जा रहे यह आंगनबाड़ी केंद्रों में कार्यरत कर्मचारियों के मानदेय में वृद्धि की जानी चाहिए। महंगाई के इस समय मे 6 हजार का मानदेय बहुत कम है। इसके लिए प्रदेश सरकार को इनके मानदेय के अंश में अपना हिस्सा बढ़ाना चाहिए।

हिमाचल की ताजा अपडेट Live देखनें के लिए Subscribe करें आपका अपना हिमाचल अभी अभी YouTube Channel…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है