×

खुदाई करते हुए मजदूर को मिली 300 साल पुरानी सोने की अशर्फियां, बिना किसी को बताए घर में छिपाई

पुलिस ने घर पर छापेमारी कर बरामद किए सिक्के

खुदाई करते हुए मजदूर को मिली 300 साल पुरानी सोने की अशर्फियां, बिना किसी को बताए घर में छिपाई

- Advertisement -

पुणे। लालच किसी का भी मन बदल सकता है और किसी को सोने की अशर्फियां मिल जाएं तब तो उसकी नीयत बदलेगी ही। महाराष्ट्र के पुणे (Pune, Maharashtra) से सटे पिंपरी चिंचवाड इलाके में खुदाई के दौरान एक शख्स को 300 साल पुरानी 216 सोने की अशर्फियां (Gold Coins) मिलीं। इस शख्स ने प्रशासन को इसकी सूचना देने की बजाय ये सोने की अशर्फियां छुपा कर रख ली। लेकिन पुलिस तक इसकी खबर पहुंच ही गई। गुप्त सूचना के आधार पर पिंपरी-चिंचवड क्राइम ब्रांच यूनिट 2 की टीम ने 216 सोने की अशर्फियां और 525 ग्राम वजन का एक लोटा बरामद किया।


यह भी पढ़ें: शार्क ने खतरनाक तरीके से किया उड़ते पंछी का शिकार, Video देखकर हो जाएंगे हैरान

बताया जा रहा है कि जमीन से मिले इस खजाने की कीमत अनमोल है। पिंपरी चिंचवड शहर के चिखली इलाके में पैट्रोलिंग के दौरान क्राइम ब्रांच की टीम (Crime Branch Team) के एक पुलिसकर्मी को यह जानकारी मिली थी। नेहरू नगर इलाके में रहने वाले सद्दाम सालार खान पठान के पास कुछ प्राचीन सोने की अशर्फियां हैं, जो उन्होंने छुपाकर रखी हुई हैं। इस मामले को गंभीरता से लेते हुए पुलिस ने उस जगह जाकर छापेमारी (Raid) की जहां पर सद्दाम रहता था। पूछताछ में सद्दाम ने बताया कि तीन महीने पहले उनका साला इरफान और ससुर मुबारक काम के सिलसिले में यहां आए थे। उसी दौरान चिखली इलाके में काम के दौरान जमीन में खुदाई करते समय एक लोटा मिला जिसमें सोने की अशर्फियां मौजूद थीं। उन्होंने यह अशर्फियां बाकी लोगों की नजर से चुराकर अपने थैले में रख लीं और घर लेकर चले गए। घर जाकर देखा कि इसमें सोने की अशर्फियां थीं।

पुलिस कमिश्नर कृष्ण प्रकाश ने बताया कि यह अशर्फियां काफी प्राचीन हैं। जो लगभग 300 साल या 1720 से 1750 के आसपास की हैं। जिस पर उर्दू और अरबी भाषा में राजा मोहम्मद शाह ऐसा लिखा हुआ है। सोने की हर अशर्फियों का वजन 10.8 ग्राम है। मौजूदा समय के हिसाब से हर अशर्फी की कीमत लगभग 70 हजार के करीब है। पुलिस ने बताया कि लोटे समेत सोने की अशर्फियां बरामद कर ली गई हैं और उन्हें पुरातत्व विभाग को सौंप दिया है। पुलिस आगे की जांच कर रही है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है