×

पानी के तेज बहाव में बह गई 3 परिवारों की कई बीघा भूमि व मिट्टी में मिले पेड़

सुंदरनगर की ग्राम पंचायत चांबी के गांव मझरोठ का मामला

पानी के तेज बहाव में बह गई 3 परिवारों की कई बीघा भूमि व मिट्टी में मिले पेड़

- Advertisement -

सुंदरनगर। मंडी जिला के विकास खंड सुंदरनगर ( Sundernager) की ग्राम पंचायत चांबी के गांव मझरोठ में 3 परिवारों का लाखों का नुकसान हो गया है। यहां पर एक निर्माणाधीन सिंचाई योजना ( Under construction irrigation scheme)में अचानक पानी आने से गांव मझरोठ की बीपीएल परिवार से संबंधित गीता देवी की गौशाला व शौचालय को नुकसान और अन्य दो परिवारों की कई बीघा भूमि व पेड़ मिट्टी में मिल गए हैं। बताया जा रहा है कि जलशक्ति विभाग के तहत जैन इरीगेशन कंपनी( Jain Irrigation Company) के द्वारा निर्माणाधीन सिंचाई योजना में अचानक पानी की सप्लाईआने के कारण गीता देवी,अजय कुमार और तारा चंद धीमान की भूमि और संपत्ति का भारी नुकसान हुआ है। प्रभावितों ने प्रशासन से लापरवाही बरतने वाले कर्मचारियों के खिलाफ सख्त कानूनी कार्रवाई और नुकसान का उचित मुआवजा भी देने की मांग की है।


यह भी पढ़ें: Rohru: बर्फबारी में बिजली-पानी और सड़कों को नहीं होगा नुकसान, प्रदेश सरकार निकालेगी स्थायी हल

बता दें कि सुंदरनगर विकास खंड के अंतर्गत कंसा-चांबी-भराड़ी आदि गांवों के लिए जैन इरीगेशन के माध्यम से जल सिंचाई परियोजना का शिलान्यास वर्ष 2017 में कांग्रेस सरकार के कार्यालय में पूर्व सीएम वीरभद्र सिंह के द्वारा किया गया था। इस योजना की लागत लगभग 4 करोड़ से ऊपर है और वर्ष 2019 में इसका कार्य शुरू हुआ था जो अभी तक आधा अधूरा ही है।
विकास खंड सुंदरनगर के अंतर्गत गांव मझरोठ निवासी गीता देवी ने कहा कि उनके घर के पास से चाई योजना में अचानक से पानी छोड़ने के बाद पहाड़ी से मलबा आने के कारण गौशाला को भारी नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि वे बीपीएल परिवार से संबंधित है और इस प्रकार से लापरवाही बरतने पर संबंधित कर्मचारियों के खिलाफ कार्रवाई की जाए।

यह भी पढ़ें: Himuda ने 2019-2020 में 64 करोड़ रुपए के प्लॉट, फ्लैट व व्यावसायिक संपत्तियां बेची

ग्राम पंचायत चांबी के गांव मझरोठ निवासी अजय कुमार ने कहा कि उनके गांव में सिंचाई लाइन बिछाई जा रही है। इसका कार्य अभी आधा अधूरा है। उन्होंने कहा कि देर रात इसकी पाइप लाइनों में पानी छोड़ने के कारण उनका लाखों का नुकसान हुआ है। उन्होंने कहा कि मामले को लेकर विभाग को भी फोन किए,लेकिन कोई फोन नहीं उठाता है।आदर्श युवक मंडल के प्रधान चुन्नी लाल ने कहा कि जैन इरीगेशन के द्वारा गांव से बिछाई गई पाइपलाइन में किसी शरारती तत्व के द्वारा निर्मानाधीन पाइपलाइन में पानी छोड़ दिया गया। इस कारण गांववासियों की भूमि और भवनों का नुकसान हो गया है। उन्होंने कहा कि इस हादसे में बीपीएल से संबंधित महिला का भी काफी नुकसान हुआ है। उन्होंने प्रशासन से पीड़ितों को उचित मुआवजा देने की मांग की है। ग्राम पंचायत चांबी के प्रधान दलीप कुमार ने कहा कि सिचाई योजना की पाइपलाइन में पानी छोड़ने के बाद पाइपलाइन फटने के कारण लोगों को हुए नुकसान का जायजा मौके पर आकर लिया है। उन्होंने कहा कि मामले की सूचना विभाग के संबंधित अधिकारियों को दे दी गई है। दलीप कुमार ने प्रशासन से प्रभावितों को मुआवजा देने की मांग की है।

 

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group…

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है