×

मकान मालिक ने माफ किया 1.50 लाख रुपए Rent, किराएदारों को बांट रहा खाना

मकान मालिक ने माफ किया 1.50 लाख रुपए Rent, किराएदारों को बांट रहा खाना

- Advertisement -

नोएडा। देश के सामने इस समय कई चुनौतियां हैं। लोगों को सुरक्षित भी रखना है और उनकी जरूरतों का भी ध्यान रखना है ताकि किसी को इस वजह से ज्यादा परेशानी ना उठानी पड़े। ऐसे समय में जहां कुछ लोग बिलकुल सहयोग नहीं कर रही वहीं ऐसे भी लोग हैं जो अपने फायदों को भुलाकर दूसरों की मदद को आगे आए हैं। लॉकडाउन के बीच जहां कुछ मकान मालिकों (Landlord) ने अपने घरों में किराए पर रहने वाले डॉक्टर, नर्स और अन्य सेवाओं के कार्यरत लोगों को बाहर निकालने की धमकी दी तो कुछ ऐसे भी हैं जिन्होंने अपनी मर्जी से किराया छोड़ दिया है, वह भी 10-20 हजार नहीं पूरे 1.50 लाख रुपए।


हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए like करे हिमाचल अभी अभी का facebook page 

नोएडा के बरौला गांव में रहने वाले कुशल पाल ने अपने 50 किरायेदारों का किराया (Rent) माफ कर दिया, जिन्हें कोरोना वायरस लॉकडाउन की वजह से पैसों की तंगी है। इतना ही नहीं वे उन लोगों से अपील भी कर रहे हैं कि फिलहाल अपने घर न जाकर यहीं रहें और उनकी खाने-पीने की चीजों से भी मदद कर रहे हैं। कुशल पाल बताते हैं कि उनके यहां करीब 50 किराएदार हैं। सबसे करीब 1.50 लाख का किराया आ जाता है, लेकिन उन्होंने इस महीने के लिए किराया माफ कर दिया। इतना ही नहीं उन्होंने सबको 5-5 किलो आटा भी दिया। उन्होंने किरायेदारों से कहा है कि फिलहाल घर छोड़कर न जाएं।

पाल अपने सिक्यॉरिटी गार्ड, ड्राइवर की भी मदद कर रहे हैं। लॉकडाउन की वजह से दिल्ली-नोएडा में किराये पर रहने वाले लोगों को दिक्कतों का सामना करना पड़ रहा था। काम बंद होने की वजह से उनके पास खाने को भी पैसे नहीं हैं। ऐसे में कुछ मकान मालिक उन पर किराए का भी प्रेशर बना रहे थे। दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल ने मकान मालिकों से यहां तक कह दिया था कि लोगों का किराया सरकार खुद देगी। वहीं, गौतम बुद्ध नगर में इसके लिए सख्त निर्देश जारी हो गए हैं। वहां अब एक महीने का किराया माफ करना ही होगा।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है