Covid-19 Update

2,06,832
मामले (हिमाचल)
2,01,773
मरीज ठीक हुए
3,511
मौत
31,810,782
मामले (भारत)
201,005,476
मामले (दुनिया)
×

कोटरोपी ने ठीक एक साल बाद फिर डराए लोग

कोटरोपी ने ठीक एक साल बाद फिर डराए लोग

- Advertisement -

मंडी। ठीक एक वर्ष बाद कोटरोपी में वही मंजर देखने को मिला। लेकिन, इस बार गनीमत यह रही कि जान-माल का कोई नुकसान नहीं हुआ। बता दें कि 12 और 13 अगस्त 2017 की रात को कोटरोपी में हिमाचल के इतिहास का सबसे बड़ा भू-स्खलन हुआ था। एक वर्ष बाद जब फिर से 12 और 13 अगस्त की रात आई तो कोटरोपी और इसके आसपास के लोग मौसम के बदले मिजाज से सहम उठे। गत वर्ष रात करीब 12:45 पर हादसा हुआ था और इस वर्ष रात करीब 1:30 पर फिर से कोटरोपी में भू-स्खलन हुआ।
पिछले वर्ष जो मलबा यहां आकर इकट्ठा हुआ था और पानी के रिसाव के कारण ढीला हो चुका था। वहीं, मलबा भू-स्खलन के कारण बह गया, जबकि पहाड़ी से अतिरिक्त कोई मलबा नहीं गिरा। इस मलबे के गिरने से अब यहां पर हालात और भी बिगड़ गए हैं। पिछले करीब एक सप्ताह से प्रशासन की टीमें जिस रोड़ बहाली के लिए दिन रात जुटी हुई थी उनपर अब पानी फिर गया। जो रोड़ निकाला जा रहा था वो मलबे के साथ बह गया। अब यहां पर रोड़ बहाली का काम नए सिरे से करना होगा। बताया जा रहा है कि करीब 50 मीटर तक मलबा बह गया है और एक बड़ी खाई कोटरोपी में बन गई है।
ऐसा प्रतीत हो रहा है जैसे यहां से बहने वाले नाले ने अपना रास्ता इख्तियार कर लिया है। मलबा बहने से कोई नुकसान तो नहीं हुआ, लेकिन पंदलाही गांव को खतरा उत्पन्न हो गया है। यह गांव यहां से होकर बहने वाले नाले के साथ है और मलबे के कारण गांव पर खतरा मंडराने लग गया है। एसडीएम पधर आशीष शर्मा ने बताया कि कोटरोपी में काफी मलबा बह गया है, जिससे सड़क निर्माण में अब और भी दिक्कतें पेश आ सकती हैं। उन्होंने बताया कि प्रशासन कोटरोपी के हालातों पर पूरी नजर बनाए हुए है।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है