Covid-19 Update

57,257
मामले (हिमाचल)
55,919
मरीज ठीक हुए
961
मौत
10,689,202
मामले (भारत)
100,486,817
मामले (दुनिया)

शहीद पति के अंतिम दर्शन की हसरत रह गई अधूरी

- Advertisement -

सोलन। सियाचिन ग्लेशियर (Siachen Glacier) में पेट्रोलिंग के दौरान शहीद बिलजंग गुरुंग को आज सैन्य व राजकीय सम्मान के साथ सुबाथू के रामबाग में अंतिम विदाई दी गई। सेना के वाहन में एक बजे के करीब जब शहीद का पार्थिव शरीर रामबाग लाया गया, तो हर किसी की आंखें नम थीं। लाडले को तिरंगे में लिपटा देख शहीद के परिजनों की चीख-पुकार से पूरा सबाथू गमगीन हो गया। शहीद की माता लगातार अपने लाडले को निहारती रही। 29 वर्षीय जीगर के टुकड़े का पार्थिव शरीर देख पिता व परिवार के अन्य सदस्य बेसुध थे। बिलजंग की पत्नी आठ महीने की गर्भवती होने के चलते अपने पति की अंतिम विदाई में शामिल नहीं हो सकी। वह नेपाल से नहीं आ सकीं।

सेना के धर्मगुरु ने शहीद के परिजनों की मौजूदगी में शहीद का अंतिम संस्कार करवाया। देशभक्ति धुन पर सेना की एक टुकड़ी ने शहीद को अंतिम घाट के लिए शव यात्रा शुरू की। शहीद की अंतिम यात्रा में 14 जीटीसी के ब्रिगेडियर एचएस संधू, प्रदेश के स्वास्थ्य मंत्री डॉ. राजीव सैजल, जिला प्रशासन से एसडीएम अजय कुमार, डीएसपी परवाणु योगेश रोल्टा सहित सेना व जिला प्रशासन के अन्य अधिकारी भी मौजूद रहे।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED VIDEO

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है