Covid-19 Update

2,21,203
मामले (हिमाचल)
2,16,124
मरीज ठीक हुए
3,701
मौत
34,043,758
मामले (भारत)
240,610,733
मामले (दुनिया)

पत्नी ने पति के सिर पर जोर से बेलन मारा…

पत्नी ने पति के सिर पर जोर से बेलन मारा…

- Advertisement -

पप्पू अपने एक दोस्त से बता रहा था…

कल मैंने काली मिर्च खरीदी और

अंधेरे का फायदा उठाते हुए

दुकानदार को फटा हुआ नोट दे आया!

वापस घर आया तो घरवाले बोले-

ये पपीते के बीज क्यों उठा लाए…!!!

 

 

 

 

 

 

पत्नी ने पति के सिर पर जोर से बेलन मारा…

पति – मारा क्यों?

पत्नी – तुम्हारी जेब से एक कागज मिला है,

जिसपर शबनम लिखा है।

पति – अरे मैंने पिछले हफ्ते जिस घोड़ी पर

रेस में दांव लगाया था, उसका नाम शबनम था।

पत्नी – सॉरी…

अगले दिन पत्नी ने पति को फिर से बेलन मारा…

पति – अब क्यों मारा?

पत्नी – तुम्हारी घोड़ी का फोन आया था…!!!

 

 

 

 

पति और पत्नी एक कुएं के पास गए…

जहां सिक्का डालने से मन की मुराद

पूरी हो जाती थी…!

पहले पति ने सिक्का डाला, फिर पत्नी

जैसे ही सिक्का डालने गई तो

पैर फिसल गया और वो कुएं में गिर गई!

पति की आंखों में आंसू आ गए,

ऊपर देखते हुए बोला- हे भगवान,

इतनी जल्दी सुन ली…!!!

 

 

 

 

 

 

अध्यापक छात्र सेः

बताओ तुम इतिहास पुरूष में सब से ज्यादा किससे नफरत करते हो?

बच्चा : राजा राम मोहन राय से

अध्यापक- क्यों?

बच्चा- उन्होंने ही बाल विवाह बंद करवाया था

वरना आज हम भी बीवी बच्चे वाले होते!

 

 

 

 

 

गुप्ता जी : एक बार मैं अपनी सुंदर पड़ोसन के साथ पार्क में गया…

हम एकांत में बैठे।
वो बोली : क्या करें ?
गुप्ता जी :
मैंने कहा,
एक चुटकुला सुनो।
*चुटकुला*
एक सन्यासी मन्दिर में सो रहा था। रात को एक सुंदरी आकर उसके पास लेट गई।
सुबह को सन्यासी पछताया।
जाकर अपने गुरु से पूछा : बताइए, प्रायश्चित कैसे होगा ?
गुरु ने पूछा : तुमने सुन्दरी के साथ कुछ किया भी था ?
सन्यासी ने कहा : नहीं।
गुरु बोले : दस दिन तक सुबह उठकर घास चरो।
सन्यासी ने पूछा : ऐसा क्यों ?
गुरु ने कहा : इसलिए कि तुम गधे हो।
*(समाप्त)*
गुप्ता जी : मेरी पड़ोसन खूब हंसी। बहुत देर बाद हम दोनों उठकर जाने लगे। जाते-जाते उसने मुझे 100 रुपए दिए।
गुप्ता जी : मैंने पूछा, चुटकला पसंद आया, इसलिए रुपए दे रही हो ?

वो बोली :नहीं
.
.
.
*घास खरीदने के लिए…

- Advertisement -

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है