Covid-19 Update

2,17,615
मामले (हिमाचल)
2,12,133
मरीज ठीक हुए
3,643
मौत
33,594,803
मामले (भारत)
231,514,397
मामले (दुनिया)

डॉक्टर: मरीज से-  क्या परेशानी है?..

डॉक्टर: मरीज से-  क्या परेशानी है?..

- Advertisement -

इज्जत के साथ बेइज़्ज़ती ऐसे होती है 

एक खूबसूरत युवती फोन पर बात करते करते लिफ़्ट में घुसी।

मेरी तरफ़ देख कर, हलके से हंसते हुए अपनी सहेली को फोन पर बोली,
चल मैं फोन रखती हूँ, लिफ़्ट में एक मस्त हैंडसम कम्पनी मिल गई है,
उस के साथ बात करती हूँ। बाय सी यू” ….
मैं, कुछ सोचूँ , विचारूँ, बोलूँ ,

इस से पहले ही मेरी तरफ़ देख कर हंसते हंसते बोली, “सॉरी अंकल”….,
ये मेरी सहेली कब से फोन पर चिपक गई थी, तो पीछा छुड़ाने के लिए झूठ बोलना पड़ा”।
सच कहूं…..
आज तक, इतनी “इज्जत” के साथ ऐसी “बेइज़्ज़ती” कभी नहीं हुई।
इसलिए , सभी 40 के बाद, शांत रहें, स्वस्थ रहें और सीढ़ी का प्रयोग करें, फ़िट रहें ….

 

 

 

हंसने हंसाने का यहां है खजाना, एक क्लिक और लोटपोट हो जाएंगे आप

 

 

 

माया को छोड़ो और शांति के साथ रहो :

एक आदमी सत्संग से घर पहुंचा और सीधे अपनी पत्नी से कहा कि देखो अब तुम मेरे साथ नहीं रहोगी।

हैरान पत्नी ने रोते हुए यह बात उस आदमी के दोस्त को बताई और समझाने को कहा।
दोस्त ने पूछा भाई हुआ क्या तुझे, जो माया भाभी को छोड़ रहा है?

आदमी ने जवाब दिया – बाबा जी ने कहा है,
माया को छोड़ो और शांति के साथ रहो…बस वही कर रहा हूं….

 

 

हंसने हंसाने का यहां है खजाना, एक क्लिक और लोटपोट हो जाएंगे आप

 

 

दिमाग ही सिर्फ ऐसा अंग है

जिसको गरम कर सकते हैं
ठंडा भी रख सकते हैं
खा भी सकते हैं
खराब भी कर सकते हैं
चाट भी सकते हैं जिसकी बत्ती भी जला सकते हैं
और…. दही भी बना सकते हैं।

 

 

 

हंसने हंसाने का यहां है खजाना, एक क्लिक और लोटपोट हो जाएंगे आप

 

 

 

डॉक्टर साहब ने ग्रामीण मरीज की पर्ची पर तीन दवाइयां लिखी:

पहली गोली को लिखा TDS और दूसरी गोली को लिखा BD और तीसरी को लिखा SOS….
ग्रामीण मरीज बोला डाक्टर साहब समझ गयो, अब जाऊं ?
डॉक्टर बोला : क्या समझे… दवा कैसे लोगे?
मरीज : TDS माने तीन बखत T तड़के D दुपहरे S संझा के….
BD माने भोरे और दुपहरे…
SOS माने S सोच O और S समझ के याने जरूरत पड़े तभी ठीक है नी डॉक्टर साहब ?.
डॉक्टर साहब अभी भी सदमे में हैं…..!
the most authentic explanation.

 

 

 

हंसने हंसाने का यहां है खजाना, एक क्लिक और लोटपोट हो जाएंगे आप

 

 

 

 

डॉक्टर: मरीज से-  क्या परेशानी है?..

मरीज – मैं क्यों बताऊं?
तुम देखो मुझे क्या बीमारी है?
डॉक्टर तुम हो कि मैं…?
डॉक्टर (नर्स से) – इसको ऑपरेशन थियेटर में ले जाओ और
दाहिना वाला फेफड़ा और किडनी दोनों निकाल लो,
सड़ गई हैं दोनों!
मरीज (घबराकर) – तुम पागल हो क्या? मेरी तो टांग में दर्द है!
डॉक्टर – चुपचाप बैठ, डॉक्टर तुम हो कि मैं…?

 

 

 

हंसने हंसाने का यहां है खजाना, एक क्लिक और लोटपोट हो जाएंगे आप

 

 

 

फोन पर लड़की बोली : – हेलो, आप कुंवारे हैं?

चंपक :  हां, बस एक सुंदर-सुशील लड़की की तलाश है,जो मेरी करोड़ों की जायदाद को संभाल सके।
मेरे पास लाखों के जेवरात हैं, लेकिन उन्हें कोई पहनने वाली नहीं है।
मैंने शादी से पहले ही अपनी होने वाली बीवी के लिए सैकड़ों नाइटीज और 1 हजार साड़ियां ला रखीं हैं।
200 चप्पलें और सैंडल भी पड़े-पड़े धूल खा रहे हैं पर उन्हें पहनने वाली की जगह खाली है।
बस एक सुंदर बीवी मिल जाए, जो मेरे तीन बंगलों में नौकरों को कमांड कर सके कि आखिर उन्हें क्या करना है और किस दिन कौन सी सब्जी बनानी है…
साले, जब मन पड़ता है कद्दू की सब्जी बना लेते हैं, कोई देखने वाला नहीं है।
क्या है कोई लड़की आपकी नजर में। लेकिन आप बोल कौन रही हैं?
लड़की :- मैं तुम्हारी बीवी बोल रही हूं, आज घर आना तो बताऊंगी।
चंपक -ओह मॉय गॉड….
थोड़ी देर बाद फिर एक अनजाने नंबर से फोन आया…
फिर से एक लड़की ही थी, जो बोली :- क्या आप शादीशुदा हैं?
चंपक : हां, लेकिन तुम कौन?
लड़की : तुम्हारी गर्लफ्रेंड सोनिया… यू फ्रॉड
चंपक : सॉरी बेबी, मुझे लगा मेरी बीवी है।
लड़की : बीवी ही हूं धोखेबाज…आज बस तुम घर आओ, फिर बताती हूं।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है