Covid-19 Update

1,61,072
मामले (हिमाचल)
1,24,434
मरीज ठीक हुए
2348
मौत
25,227,970
मामले (भारत)
164,275,753
मामले (दुनिया)
×

तिवारी जी एक कड़क ऑफिसर थे…

टोमू काफी देर से कान खुजा रहा था...

तिवारी जी एक कड़क ऑफिसर थे…

- Advertisement -

पत्नी : तुम आज फिर शराब पीकर आए हो टाइम देखो कितना हुआ है ?

पति : बारह में पांच कम
पत्नी : और पियो शराब, अभी सात बज रहे हैं और तुम्हें बारह में पांच कम नज़र आ रहा है।
पति : तो बारह में पांच कम कितना होता है ?? सात ? सही तो बोला…

पत्रकार :- 80 साल की उम्र में भी आप पत्नी को ‘डार्लिंग’ कहते हो…

इस प्यार का राज क्या है???
बूढ़ा:- बेटा 20 साल पहले इनका नाम भूल गया था,
आज तक पूछने की हिम्मत ही नहीं हुई।

टोमू काफी देर से कान खुजा रहा था…

टोमू अपने घर के बाहर खड़ा हुआ था और काफी देर से कान खुजा रहा था।
सोनू उसे दूर से देख रहा था,
थोड़ी देर बाद वह शरारत से पास आकर बोला :
भाई टोमू तेरी गाड़ी स्टार्ट न हो रही हो तो मैं धक्का लगा कर स्टार्ट करवा दूं क्या?

तिवारी जी एक कड़क ऑफिसर थे…

स्टाफ अगर लेट आए तो उनको बिलकुल बर्दाश्त नहीं होता।
नियम यह था कि जो भी लेट आएगा वह रजिस्टर पर लेट आने का कारण भी लिखेगा…..।
उस दिन ऑफिस आने पर जब तिवारी जी ने रजिस्टर देखा तो उनका दिमाग ही ख़राब हो गया..।
तुरंत 10 स्टाफ मेंबर्स को केबिन में बुलाया गया…..
10 स्टाफ मेंबर्स केबिन में लाइन से गर्दन झुका कर खड़े थे…!
तिवारी साहब की आंखों से अंगारे बरस रहे थे और गुस्से से लाल पीले हो रहे थे…
इतने में ही peon मिठाई का डब्बा लेकर आया…और तिवारी साहब को दिया…


तिवारी साहब उठे……आंखें तरेरते हुए सारे स्टाफ को मिठाई हाथ में दी और कहा – खाओ…!
किसी को कुछ समझ नहीं आ रहा था, पर डर के मारे मिठाई खा ली…!
“बधाई हो बधाई”, तिवारी साहब चिल्लाए…..!
और कहा….
“मुझे बहुत ख़ुशी है कि आज ऑफिस में एक साथ 10 स्टाफ मेंबर्स की बीबियां प्रेग्नेंट हैं..
“और इससे भी बड़े आश्चर्य की बात यह है कि सबकी सोनोग्राफी भी आज ही हुई है”!
“बेवकूफों, रजिस्टर पर लिखते समय यह तो देखो कि ऊपर वाले ने क्या लिखा है….बिना देखे ‘Same As Above’ लिख देते हो…….. ,!
और तो और, इससे भी बड़ा आश्चर्य यह है कि इन 10 जनों में दो लेडीज भी हैं, जिनकी वाइफ प्रेग्नेंट है…

चंगा प्रसाद- जब पूरी दुनिया क्रिकेट खेलती है तो चीन को क्या दिक्कत है…

वह क्रिकेट क्यों नहीं खेलता?


मंगा लाल-वो तो वर्ल्ड कप तक भी खेलना चाहता है, लेकिन बाकी देश उसे खेलने से रोक देते हैं।

चंगा प्रसाद- ऐसा क्यों?

मंगा लाल-उनकी टीम खेलती है तो अंपायर समझ ही नहीं पाते कि जिसे अभी आउट दिया था,
वही तो दोबारा बैट लेकर नहीं आ गया।
अंपायरों ने ही मना कर दिया।

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष




सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है