Covid-19 Update

2,16,639
मामले (हिमाचल)
2,11,412
मरीज ठीक हुए
3,631
मौत
33,392,486
मामले (भारत)
228,078,110
मामले (दुनिया)

सोनू: पत्नियां दो तरह की होती हैं…

सोनू: पत्नियां दो तरह की होती हैं…

- Advertisement -

चावल और बिरयानी में फर्क है

पति: तुम्हें इतना टाइम लगता है तैयार होने में

मैं 2 मिनट में तैयार हो गया हूं।…

पत्नी: सिंपल चावल और 

बिरयानी में फर्क होता है।

 

 

 

 

 

सोनू: पत्नियां दो तरह की होती हैं…

मोनू: दो तरह की, कैसे?

सोनू: पहली वो जो पति की बात सुनती हैं,

उन्‍हें समझती हैं,

प्‍यार से पेश आती हैं,

पति के गुस्‍से के बाद भी मुस्‍कुराती हैं।

मोनू: और दूसरी?

सोनू: जो सबके पास हैं।

 

 

 

 

 

शिक्षक – ‘ खुशी का ठिकाना न रहा ‘…

इस मुहावरे का अर्थ और वाक्य में प्रयोग करो।
श्यामलाल – जब तक खुशी अपने बॉयफ्रेंड से छुप कर मिल रही थी
सब ठीक था।
एक दिन खुशी के पापा ने देख लिया और खुशी को घर से निकाल दिया।
अब बेचारी खुशी का कोई ठिकाना नहीं रहा।

 

 

 

 

 

 

इंजीनियरिंग कॉलेज के सभी शिक्षकों को एक टूर पर ले जाने के लिए हवाई जहाज में बैठाया..!!

एक इंजीनियरिंग कॉलेज के सभी शिक्षकों को एक टूर पर ले जाने के लिए हवाई जहाज में बैठाया..!!
जब सभी शिक्षक बैठ गए तो पायलट ने बड़ी ही ख़ुशी से घोषणा की-
‘‘आप सभी गणमान्य शिक्षकों को यह जान कर खुशी होगी
कि जिस प्लेन में आप बैठे हैं,
उसे आप ही के कॉलेज के होनहार विद्यार्थियों ने बनाया है…!!’’
.
.
बस फिर क्या था..!!
इतना सुनते  ही सभी शिक्षक इस डर से नीचे उतर गए
कि कहीं उड़ान भरते ही विमान दुर्घटना ग्रस्त ना हो जाए…!!
लेकिन प्रिंसिपल साहब बैठे रहे…!!
यह देख पायलट उनके पास गया और उनसे पूछा-
सर, सभी टीचर अपने विद्यार्थियों का नाम सुनते ही डर कर उतर गए लेकिन आप क्यों नहीं उतरे..??
क्या आपको डर नहीं लग रहा है..??
.
.
प्रिंसिपल ने दिल को छू जाने वाला जवाब दिया
मुझे अपने कॉलेज के शिक्षकों से ज्यादा अपने विद्यार्थी पर भरोसा है।
देख लेना …
यह प्लेन स्टार्ट ही नहीं होगा…!!…

 

 

 

 

 

भाटिया अपनी नई बीवी के साथ बाग में टहल रहा था।
अचानक एक बड़ा सा कुत्ता उनकी तरफ झपटा,
ने तुरंत ‘अपनी पत्नी को’ गोद में ऊपर तक उठा लिया
ताकि …..कुत्ता काटे तो उसे काटे उसकी पत्नी को नहीं।
कुत्ता बिलकुल नज़दीक आकर रुका, कुछ देर तो भौंका और फिर पीछे की तरफ भाग गया।
भाटिया ने चैन की सांस ली और इस उम्मीद में पत्नी को गोद से उतारा कि पत्नी उसे गले लगाएगी
तभी उसकी तमाम उम्मीदों पर पानी फेरते हुए….
उसकी बीवी चिल्लाई…”मैंने आज तक लोगों को कुत्ते को भगाने के लिए पत्थर या डंडा फेंकते तो देखा था
पर ऐसा आदमी पहली बार देख रही हूं जो कुत्ते को भगाने के लिए ….अपनी बीवी को फेंकने के लिए तैयार.. .

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App


विशेष \ लाइफ मंत्रा


Himachal Abhi Abhi E-Paper



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है