Covid-19 Update

21,798
मामले (हिमाचल)
18,575
मरीज ठीक हुए
307
मौत
8,094,636
मामले (भारत)
45,611,848
मामले (दुनिया)

Kangra में 3 से 6 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए शुरू होगा अभिनव पायलट प्रोजेक्ट

Kangra में 3 से 6 वर्ष की आयु के बच्चों के लिए शुरू होगा अभिनव पायलट प्रोजेक्ट

- Advertisement -

धर्मशाला। जिला प्रशासन कांगड़ा (Kangra), सीएसआईआर-आईएचबीटी (IHBT) पालमपुर के सहयोग से पोषण मिशन के तहत एक अभिनव पायलट प्रोजेक्ट शुरू करने जा रहा है, जो जिले के आंगनबाड़ी केंद्रों में जा रहे 3 से 6 वर्ष की आयु के बच्चों में सूक्ष्म पोषक तत्वों की कमी को कम करने के लिए प्रभावी होगा। इस प्रोजेक्ट का प्रस्ताव सीएसआईआर-आईएचबीटी के वैज्ञानिक डॉ. विद्याशंकर श्रीवत्सन, टाटा ट्रस्ट द्वारा पोषण मिशन के अंतर्गत कांगड़ा के लिए नियुक्त कोऑर्डिनेटर राशि सिंह एवं अतिरिक्त उपायुक्त कांगड़ा राघव शर्मा द्वारा तैयार किया गया है। राज्य सरकार आंगनबाड़ी के बच्चों को न्यूट्रिमिक्स, बिस्कुट, मीठे चावल और दलिया के रूप में पूरक पौष्टिक आहार (Nutritious Food) प्रदान कर रही है। बच्चों के पोषण का अधिकांश हिस्सा परिवार द्वारा उपयोग की जाने वाली आहार संबंधी वस्तुओं के माध्यम से आता है। इस परियोजना का औचित्य यह है कि आमतौर पर स्थानीय आहार में आयरन, जिंक, विटामिन ए, विटामिन बी12 और विटामिन सी जैसे महत्वपूर्ण सूक्ष्म पोषक तत्व नहीं होते हैं और इसलिए बच्चों में वृद्धि को बढ़ावा देने के लिए इन सूक्ष्म पोषक तत्वों के साथ भोजन को पूरक करना आवश्यक है। माता-पिता को भी सूक्ष्म पोषक तत्वों और बाल विकास में उनकी भूमिका के बारे में जागरुकता नहीं होती है।

पंचरुखी ब्लॉक की सात पंचायतों में आहार पैटर्न पर होगा सर्वेक्षण

इस समस्या को दूर करने के लिए पायलट प्रोजेक्ट में जिला कांगड़ा के पंचरुखी ब्लॉक की सात पंचायतों के 20 आंगनबाड़ी केंद्रों में 3 से 6 साल के बच्चों के पोषण गुणवत्ता और आहार पैटर्न पर सर्वेक्षण किया जाएगा। इस प्रोजेक्ट (Project) में भरमात, बनूरी, राजपुर, पारला टांडा, पंचरुखी, होल्टा और टांडा पंचायतें शामिल होंगी। इसके बाद, इन चयनित 20 आंगनबाड़ी केंद्रों से 100 बच्चों के एक लक्षित समूह को सूक्ष्म पोषक फोर्टिफाइड खाद्य पदार्थ प्रदान किए जाएंगे और माइक्रोन्यूट्रिएंट फोर्टिफिकेशन के प्रभाव का मूल्यांकन करने के लिए उनकी वृद्धि की निगरानी की जाएगी। खाद्य उत्पादों के वितरण की निगरानी और पर्यवेक्षण संबंधित क्षेत्र के बाल विकास परियोजना अधिकारी द्वारा किया जाएगा। इन बच्चों को व्यावहारिक सत्रों के माध्यम से स्वास्थ्य शिक्षा भी प्रदान की जाएगी। अनुपालन सुनिश्चित करने के लिए प्रशिक्षण सत्र के दौरान माताओं को भी शामिल किया जाएगा। प्रोजेक्ट के माध्यम से छोटे बच्चों द्वारा पसंद किए जाने वाले स्वाद वरीयताओं की प्रतिक्रिया भी प्राप्त होगी, जिससे उनके द्वारा पसंद किए जाने वाले खाने को फोर्टीफिएड करके दिया जा सकेगा।

यह भी पढ़ें: आईएचबीटी पालमपुर में प्रोजेक्ट असिस्टेंट की निकली 15 वेकेंसी

इस परियोजना के लिए सीएसआईआर- आईएचबीटी द्वारा विकसित दो कम लागत वाले माइक्रोन्यूट्रिएंट फोर्टिफाइड फूड फॉर्मूलेशन का उपयोग किया जाएगा। पहला उत्पाद एक बहु-अनाज उच्च प्रोटीन मिश्रण है और दूसरा उत्पाद एक स्पिरुलिना मूंगफली बार या स्पिरुलिना समृद्ध मल्टीग्रेन ऊर्जा बार है। ये उत्पाद बहुत कम खाना पकाने वाले हस्तक्षेपों के साथ पानी में तैयार हो जाते हैं और रेडी-टू-ईट हैं। इन उत्पादों में सूक्ष्म पोषक तत्व 15 प्रतिशत से 20 प्रतिशत आरडीआई (RDI) मात्रा में उपलब्ध हैं। वे कोई कृत्रिम योजक या संरक्षक के साथ नहीं बनाए गए हैं, 100 प्रतिशत प्राकृतिक हैं और पोषक तत्व से घने हैं। यह परियोजना 6 महीने तक चलेगी और 3-6 वर्षों के बीच बच्चों की पोषण स्थिति को बेहतर बनाने में मदद करेगी। इस परियोजना को 10.60 लाख रुपये की लागत के साथ पोषण मिशन के नवाचार घटक के तहत राज्य अभिसरण समिति द्वारा अनुमोदित किया गया है। यदि पायलट प्रोजेक्ट से सकारात्मक परिणाम सामने आते हैं, तो इसे वृहद स्तर पर अपनाया जा सकता है। पोषण मिशन बच्चों और गर्भवती, स्तनपान कराने वाली माताओं के लिए पोषण परिणामों में सुधार करने के लिए भारत सरकार का एक प्रमुख कार्यक्रम है।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group… 

- Advertisement -

loading...
Facebook Join us on Facebook Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

Chamba: घर में लग गई अचानक आग, कमरे में सो रहा व्यक्ति जिंदा जला

हिमाचल High Court ने #Solan के ढाबा मालिक के हत्यारोपी की जमानत याचिका खारिज की

अमेठी में दलित प्रधानपति की जलाकर हत्‍या: Smriti Irani ने दिए जल्द गिरफ्तारी के निर्देश

Basketball Court का मुनीष ने किया शिलान्यास, कोमल ने गिनवाए नप के विकास कार्य

अगली कैबिनेट बैठक में रखा जाएगा NPS कर्मचारियों का मामला

#HP_Transfer: जयराम सरकार ने इधर-उधर किए 19 HPS अधिकारी, यहां पढ़े किसे कहां भेजा

#Dr. Rajesh ने महर्षि वाल्मीकि जी के प्रकटोत्सव पर प्रदेश वासियों को दी हार्दिक बधाई एवं शुभकामनाएं

किन्नौर के निगम भंडारी हो सकते हैं Himachal Youth Congress अध्यक्ष, विधिवत घोषणा बाद में

#HRTC के हाथ खड़े : कोरोना काल में नहीं मिल रही सवारी, 70 रूट बंद करने की तैयारी

आंखों में दर्द की शिकायत लेकर #Doctor के पास गया शख्स, ऑपरेशन में निकाले 20 जिंदा कीड़े

#Corona_ Update: हिमाचल में आज भी 300 से ज्यादा मामले, 6 की गई जान

CM Jai Ram ने सभी फोरलेन परियोजनाओं को तय सीमा में पूरा करने के दिए निर्देश

#Highcourt के आदेशः मृतक कर्मचारी की विवाहित पुत्री को अनुकंपा के आधार पर नियुक्ति प्रदान करे सरकार

#Shimla: हिमाचल कांग्रेस ने IGMC अस्पताल में डोनेट किए स्वास्थ्य उपकरण, मरीजों को मिलेगा लाभ

बड़ी खबरः #HPPSC ने घोषित किया इस प्रारंभिक परीक्षा का Results, 546 अभ्यर्थी सफल

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

राशिफल

टेक्नोलॉजी / गैजेट्स / ऑटो

Himachal Abhi Abhi E-Paper


विशेष


HP : Board

#HP_Board ने जारी किया D.El.Ed नियमित व रि-अपीयर वार्षिक परीक्षाओं का Schedule

Big Breaking: शिक्षा बोर्ड ने जमा दो अनुपूरक परीक्षा का Result किया आउट

अब कभी भी-कहीं भी पढ़ाई कर सकेंगे Himachal के छात्र, शिक्षा मंत्री ने किया #Jio_TV का शुभारंभ

#Himachal के इन स्कूलों में सर्दियों की छुट्टियों पर चलेगी कैंची, प्रस्ताव तैयार

जवाहर नवोदय विद्यालय कक्षा 6 का #Entrance_Exam अब 7 नवंबर को

स्कूलों के बाद अब Colleges खोलने की तैयारी, नवंबर से आएंगे Practical विषयों के छात्र

TET Exam में इन अभ्यर्थियों को मिली छूट, बिना आवेदन दे सकेंगे परीक्षा, बस करना होगा ये काम

#Himachal में School खोलने की तैयारी में सरकार, क्या रहेगा प्लान पढ़े यहां

Big Breaking: हिमाचल शिक्षा बोर्ड ने टैट परीक्षा का शेड्यूल किया जारी- जानिए

#HPBose: 9वीं, 10वीं, 11वीं और 12वीं कक्षाओं के छात्रों को बड़ी राहत- पढ़ें खबर

हिमाचल में 100% मास्टर जी लौट आए #School, बनने लगा स्टूडेंट्स के लिए माइक्रो प्लान

SMC शिक्षकों को बड़ी राहत, #Supreme_Court ने हिमाचल हाईकोर्ट के फैसले पर लगाई रोक

गोविंद ठाकुर बोले- #Himachal में स्कूल खोलने हैं या नहीं, 9 को होगा फैसला

शिक्षा विभाग ने तैयार किया #Himachal में स्कूल खोलने का प्रस्ताव; जानें क्या है योजना

D.El.Ed CET 2020: 12 से 23 अक्टूबर तक होगी स्क्रीनिंग, अभ्यर्थी करें ऐसा



सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है