Covid-19 Update

290
मामले (हिमाचल)
77
मरीज ठीक हुए
05
मौत
1,65,799
मामले (भारत)
58,08,946
मामले (दुनिया)

कोरोना संकट के बीच Himachal में मिली अकबर की 500 साल पुरानी निशानी

ज्वालामुखी में प्राचीन टेढ़ा मंदिर के रास्ते की मरम्मत के दौरान नहर के मिले हैं अवशेष

कोरोना संकट के बीच Himachal में मिली अकबर की 500 साल पुरानी निशानी

- Advertisement -

ज्वालामुखी। कोरोना संकट के बीच जहां हर तरफ भय का माहौल बना हुआ है, इसी बीच हिमाचल प्रदेश (Himachal Pradesh) के ज्वालामुखी में शहंशाह अकबर (Akbar) की 500 साल पुरानी नहर के अवशेष मिले हैं। प्राचीन टेढ़ा मंदिर के रास्ते की मरम्मत का कार्य चल रहा है, इसी दौरान ये अवशेष मिले हैं। कहा जाता है कि इस नहर से शहंशाह अकबर के सिपहसालार जंगल के बीचों-बीच से पहाड़ों का पानी निकाल कर मुख्य मंदिर ज्वालामुखी (Jawalamukhi) में माता की पावन व अखंड ज्योति को बुझाने के लिए लाए थे। हालांकि, उन्हें सफलता नहीं मिली थी। तब से इस नहर का इतिहास ज्वालामुखी से जुड़ा हुआ है।


यह भी पढ़ें: AIIMS से डिस्चार्ज हुए पूर्व PM मनमोहन सिंह; सीने में दर्द की वजह से हुए थे भर्ती

अवशेषों को जगह-जगह तलाशना और सहेजना किया शुरू
वर्ष1905 में हिमाचल प्रदेश के जिला कांगड़ा में आए प्रलयंकारी भूकंप के कारण जहां ज्वालामुखी नगर के कई भवन मिट्टी में मिल गए थे, वहीं प्राचीन एवं ऐतिहासिक रघुनाथ जी का मंदिर टेढ़ा हो गया था और आज 115 साल के बाद भी यह मंदिर टेढ़ा ही है। इसके साथ ही यहां मौजूद नहर का वजूद भी लगभग मिट चुका था। प्रशासन ने यहां पर सड़क व सीढियों की मरम्मत का कार्य शुरू किया तो इसी दौरान खुदाई के चलते यहां पर लगभग 500 साल पुरानी अकबर की नहर के अवशेष मिले। इसके बाद मंदिर प्रशासन ने इस नहर के अवशेषों को जगह-जगह तलाशना और सहेजना शुरू कर दिया है। कहा जा रहा है कि जहां-जहां जरूरत होगी, इस नहर का जीर्णोद्धार किया जाएगा और इसको इस तरह से सहेज कर रखा जाएगा, ताकि आने वाले समय में ये यात्रियों के लिए दर्शनार्थ स्थान बन सके।

यात्रियों के लिए बनेगा एक यादगार स्थान
हिमाचल प्रदेश योजना बोर्ड के उपाध्यक्ष रमेश धवाला ने कहा कि क्षेत्र के बुजुर्ग लोग कहा करते थे कि 1905 के भूकंप (Earthquake) के बाद शहंशाह अकबर की नहर जंगल में मलबे के नीचे दब गई है। उन्होंने बड़े प्रयास किएए परंतु यह नहर मिलती नहीं थी। परंतु अब नहर नजर आई हैए जिसको झाडियों से और मलबे के नीचे से निकाला गया है और यहां काफी लंबी लाइन नजर आने लगी  है। कई स्थानों पर यह नहर पहाड़ों के नीचे दब जाने की वजह से और मिट्टी से क्षतिग्रस्त हो गई है, परंतु जितना भी संभव हो सकेगा, इस नहर को सजीव रूप दिया जाएगा, ताकि यात्रियों के लिए दर्शनार्थ का केंद्र बन सके। वहीं,एसडीएम ज्वालामुखी अंकुश शर्मा का कहना है कि शहंशाह अकबर की इस प्राचीन नहर को इस तरह सहेज कर रखा जाएगा, ताकि यात्रियों के लिए ये एक यादगार स्थान बन सके।

हिमाचल और देश-दुनिया की ताजा अपडेट के लिए join करें हिमाचल अभी अभी का Whats App Group 

- Advertisement -

Facebook Join us on Facebook. Twitter Join us on Twitter Instagram Join us on Instagram Youtube Join us on Youtube

RELATED NEWS

हिमाचल अभी अभी बुलेटिन

Top : News

कोरोना ब्रेकिंगः Kangra जिला के जसाई गांव की 60 वर्षीय महिला निकली पॉजिटिव

शिक्षा मंत्री Suresh Bhardwaj की दोनों भांजियां बेरोजगार, गलत प्रचार वालों के खिलाफ FIR

पड़ोसी राज्यों से टिड्डी दल के हमले को लेकर Himachal में अलर्ट

Tiktok के शौक ने ले ली जान, यूपी के पांच किशोर गंगा में डूबे

स्वास्थ्य निदेशक रहते Dr.Gupta व एजेंट में हुई थी Deal, विजिलेंस जांच कर रही इशारा

Shimla में अलसुबह कमरे में धमाका-दीवार ढही, खिड़की -दरवाजे टूटे, एक व्यक्ति भी झुलसा

UN की चेतावनी - दोबारा होगा टिड्डी दलों का हमला, कई राज्यों में High Alert जारी

India में तेज रफ्तार से बढ़ रहे Corona के मामले, 24 घंटे में सामने आए 7,466 नए Case

Breaking : हिमाचल में सुबह-सवेरे पति-पत्नी सहित कोरोना के 9 Positive मामले, सभी की ट्रैवल हिस्ट्री

Corona Update: हिमाचल में आज आठ नए मामले, 7 मरीज हुए ठीक

कोरोना ब्रेकिंगः Kangra और मंडी में पांच नए मामले आए सामने, दो मरीज हुए ठीक

Himachal में बल्क ड्रग पार्क को भूमि शर्त में मिले छूट, पूरे देश में लागू होगी एक बीघा योजना

बड़ी खबरः हिमाचल में अलर्ट- कांगड़ा, ऊना, बिलासपुर और सोलन जिलों में High Alert- जानिए क्यों

Kullu में युवक की मौत मामले में बिजली बोर्ड के JE सहित 3 लाइनमैन गिरफ्तार

Himachal में घरेलू फ्लाइट-ट्रेनों में आवाजाही को SOP जारी, क्या होगा जरूरी-क्या नहीं-जानिए

Download Himachal Abhi Abhi App Himachal Abhi Abhi IOS App Himachal Abhi Abhi Android App

HP : Board

लाॅकडाउन के बीच Employment का मौका, Himachal में एक कंपनी भरने जा रही है 800 से ज्यादा पद

CBSE: 15,000 से अधिक सेंटरों में आयोजित होंगी 10वीं-12वीं की बची हुई परीक्षाएं, जानिए डिटेल

ICSE की 10वीं और ISC की 12वीं की बची हुई परीक्षाएं 1 जुलाई से 14 जुलाई तक

CBSE: अपने ही स्कूलों में बचे हुए सब्जेक्ट्स के Exam देंगे छात्र; जानें कब आएगा रिजल्ट

D.EL.ED CET- 2020 की तिथि घोषित, 21 मई से करें ऑनलाइन आवेदन

सरकार के आदेशों का कड़ाई से पालन करें Private School वरना होगी कड़ी कार्रवाई

CBSE: 10वीं और 12वीं बोर्ड की परीक्षाओं में स्‍टूडेंट्स को पहनना होगा Mask; जानिए नए निर्देश

CBSE ने जारी की 10वीं-12वीं की Pending Exams की डेटशीट, जाने कब शुरू होंगे पेपर

12वीं Geography, कंप्यूटर साइंस और वोकेशनल परीक्षा को लेकर Board का बड़ा फैसला-जानिए

अर्धवार्षिक व प्री बोर्ड परीक्षाओं में प्राप्त अंकों के आधार पर मिलेंगे Practical के अंक

Himachal के सरकारी स्कूलों में 31 मई तक छुट्टियां, आदेश जारी

Corona से बचावः स्कूल शिक्षा बोर्ड ने की "नमस्ते भारत" अभियान की शुरुआत

Himachal में खुल सकते हैं 20 से कम छात्र संख्या वाले School, क्या बोले शिक्षा मंत्री-जानिए

Answer Sheets को केंद्र से ले जाने और जमा करवाने के लिए मिलेगा वाहन भत्ता

अभी घोषित की जा सकती हैं Colleges में जून की छुट्टियां, क्या बोले शिक्षा मंत्री-जानिए


सब्सक्राइब करें Himachal Abhi Abhi अलर्ट
Logo - Himachal Abhi Abhi

पाएं दिनभर की बड़ी ख़बरें अपने डेस्कटॉप पर

अभी नहीं ठीक है